(दयानंद पाण्डेय के लिखल आ प्रकाशित हिन्दी उपन्यास के भोजपुरी अनुवाद) पहिलका कड़ी से आगे….. बाकिर लोक कवि के दायरा अब बढ़े लागल रहे. सरकारी, गैर-सरकारी कार्यक्रमन में त उनुकर दुकान चलिये निकलल रहे, चुनावी बयारो में उनुकर झोंका तेज बहे लागल रहे. एक से दू, दू से चार, चारपूरा पढ़ीं…

Advertisements

मशहूर अदाकारा आ हालही में कलर टीवी चैनल के बिगबास सीजन फोर के विजेता बनल श्वेता तिवारी के अपना पूर्व पति राजा चौधरी से झगड़ा हो गइल. राजा श्वेता का घर में घुस के उनका के बहुते बुरा भला कहलें आ मारोपीट कर दिहले. दुनु का बीच बेटी के गार्जियनपूरा पढ़ीं…

दिनेश लाल यादव निरहुआ के भोजपुरी सिनेमा के सुपर स्टार का साथे साथ जुबिली स्टार मानल जाला काहे कि उनका फिल्मन के सफलता तय रहेला. बाकिर दिनेश लाल यादव एगो मजगर अभिनेता का साथेसाथ व्यवहार कुशल आ दिलदारो हउवें. अक्सरहाँ ऊ कुछ ना कुछ अइसन कर जालें जवना के दोसरापूरा पढ़ीं…

भोजपुरी सिनेमा के सुपर स्टार पवन सिंह अपना नयका फिल्म “लागल नथुनिया के धक्का” से बहुते चहकल बाड़े. उनका पूरा उम्मीद बा कि ई फिल्म दर्शकन के भरपूर मनोरंजन करे वाला साबित होखी आ शानदार सफलता मिली एकरा. पवने सिंह ना, फिल्म के सगरी टीमे के इहे कहना बा. चन्द्रपूरा पढ़ीं…

Famous actress and Bigg Boss 4 winner Shweta Tiwari was recently abused and assaulted by her ex-husband Raja Chaudhary. Both are at loggerhead with each other for the custody of their child. Though as she is a girl mother should be the preferred custodian but Raja Chaudhary wants his daughterपूरा पढ़ीं…

Dinesh Lal Yadav is the super star and jubilee star of Bhojpuri cinema and at the same time he is also a gentle man to the core of his heart. He is kind hearted and good mannered as well. Now and then he does some thing which becomes an exampleपूरा पढ़ीं…

Pawan Singh is very enthusiastic with his new film “Lagal Nathuniya Ke Dhakka” and so is the whole team of the film. Sunil Sinha has directed this film produced by Chandra B.Verma and Rohan R.Shah. The film is going for release soon. The USP of the film is a messageपूरा पढ़ीं…

– नूरैन अंसारी जब आपन-आपन लोगवा चिन्हाये लागेला. तब स्वर्ग जइसन घरवो बटाये लागेला. जब अबर हो जाला बिश्वास के बरही, तब तिसरइत के हेंगा टंगाये लागेला. लोग भुला जाला जब नेकी के नक्सा, गुलाबो धतूर जइसन बसाये लागेला. जब घर में हो जाले ईमानदारी मुसमात, तब दवो-दारु एहसान मेंपूरा पढ़ीं…

अँजोरिया के पूरा परिवार बिटोर लिहला का बाद जवना उत्साह से रउरा सभे अंजोरिया पर जुटत बानी ओकरा से रोजे कवनो ना कवनो समस्या खड़ा हो जा रहल बा. हमनी के होस्ट के कहनाम बा कि रोजे सर्वर बइठ जात बा आ मजबूरन हमरा अँजोरिया के दोसरा बढ़िया आ तेजपूरा पढ़ीं…

– पाण्डेय हरिराम भारतीय जनता पार्टी के एकता यात्रा के श्रीनगर चहुँपे से पहिलही रोक दिहल गइल आ नेता लोग के गिरफ्तार कर लिहल गइल, भावनात्मक पहलू से एह बाति के कई गो कोण हो सकेला. एक पहलू त ऊ जइसे सुषमा स्वराज कहली कि, “तिरंगा फहरावे वालन के गिरफ्तारपूरा पढ़ीं…

– पाण्डेय हरिराम आजु हमनी के गणतंत्र दिवस ह, ६२ वाँ गणतंत्र दिवस. हालांकि इतिहास में साठ एकसठ भा बासठ साल बहुत बड़ अवधि ना होला बाकिर कवनो शासन व्यवस्था खातिर ई कमो ना कहल जा सके. संविधान के किताब में हर आम ओ खास के सगरी सुविधा दे दिहलपूरा पढ़ीं…