पहुँचा कहल जाला हाथ का हथेली के जोड़ वाली जगह, कलाई के भा मणिबन्ध के. आ पहूँची कहल जाला एगो खास तरह के गहना के जवन कलाई पर पहिरल जाला. भोजपुरी में एगो कहाउत ह पँहुचा पकड़त गरदन पकड़ लिहल. कुछ लोग पहिले त राउर सहारा लेबे खातिर राउर कलाईपूरा पढ़ीं…

Advertisements

– जयंती पांडेय जबसे पाँच राज्यन में चुनाव भइल तबसे रामचेला बड़ा मायूस हो गइले. मुँह सुथनी अस बना लिहले आ चेहरा ओल अस लटका लिहले. बाबा लस्टमानंद के बड़ा माया लागल. लगे जा के पूछले का, हो रामचेला ! बड़ा उदास लागत बाड़ऽ ? ऊ बोलले, जान जा बाबापूरा पढ़ीं…

गोरखपुर के अजय सिंह के संस्कार उनुका उमिर से बड़ बा. अपना कड़ा मेहनत आ लगन का दम पर ऊ जानल मानल सामाजिक कार्यकर्ता बन गइल बाड़े. पढ़ लिख के डाक्टर इंजीनियर बनला का बदले अजय सिंह कुछ अलगे करे के ठान लिहले आ अब एगो भोजपुरी फिल्म “दिल केपूरा पढ़ीं…

भोजपुरी सिनेमा के सुपर स्टार रवि किशन आजु काल्हु उत्तर प्रदेश में करत बाड़े. बिया बनावे वाली जर्मनी के एगो कंपनी उनुका के आपन ब्रांड अम्बवेसडर बनवले बिया आ ओकरे प्रचार में लागल बाड़े रविकिशन. रवि किशन पिछलको साल बिहार- उत्तर प्रदेश में लगभग एक दर्ज़न शो कइले रहले. अबकीपूरा पढ़ीं…

नब्बे का दशक में एक से एक फूहड़ गीत लिखे वाला गीतकार बिपिन बहार अब ओहसे तौबा कर लिहले बाड़न. पहिले ऊ बस एगो स्टार खातिर गीत लिखत रहले बाकिर अब हर कलाकार खातिर लिखत बाड़े. सत्तर चूहा खा के बिलाई चलल हज के वाला अंदाज में अब बिपिन बहारपूरा पढ़ीं…

भोजपुरी के मल्टीस्टारर फिल्म “केहू हमसे जीत ना पाई” के क्लाइमेक्स सीन के शूटिंग चाइना क्रीक में भइल जहाँ चार गो कैमरा लगावल गइल रहे. सैकड़न फाइटर आ ब्लास्ट का बीच एह सीन के शूटिंग में फिल्म के सगरी कलाकार शामिल भइले. गोरखपुर के डा॰ वजाहत करीम के बनावल एहपूरा पढ़ीं…

फिल्म “रंगबाज” का शूटिंग का दौरान एगो सीन में रानी चटर्जी के हाथ में एगो घइला दिहल गइल रहे जवना के एगो फाइटर का कपार पर फोड़े के रहल. अब रानी का हाथ में घइला देखते फाइटर भाग पराइल. शूटिंग गुजरात के राजपिपला में होत रहे. सीन रहे कि गुण्डापूरा पढ़ीं…

भोजपुरीओ सिनेमा पर अब दिल खोल के खरचा कइल जा रहल बा. पिछला दिने फिल्म “मल्ल युद्ध” के शूटिंग में एक्शन सीन शूट करे खातिर भाड़ा पर हेलीकाप्टर मँगावल गइल आ खंडाला घाट में रविकिशन, शुभम तिवारी, आ रानी चटर्जी पर हेलीकाप्टर में कैमरा लगवा के शूटिंग कइल गइल. चाँदपूरा पढ़ीं…

भोजपुरी फिल्म “राम लखन” में अनारा गुप्ता ढाबा चलावे वाली बिजली के किरदार में बाड़ी. अगर खाना खइला का बाद केहू पइसा देबे से इन्कार करेला त ओकरा के खटिया से बान्ह के तबले बेल्ट से पीटेली जबले ऊ पूरा दाम ना दे देव. अनारा के एह फिल्म में शोलेपूरा पढ़ीं…

मिलत जुलत नाम का बावजूद भोजपुरी फिल्म “चालबाज चुलबुल पाण्डे” आ सलमान के दबंग के चुलबुल पांडे मे कवनो समानता नइखे. बाकिर एह फिल्म में सीमा सिंह “मुन्नी बदनाम हुई” टाइप के एगो धमाकेदार डांस जरुर पेश करे वाली बाड़ी. दू सौ लेडीज डांसरन का साथ एह डाँस के एगोपूरा पढ़ीं…

पिछला दिने मुंबई के पंचम स्टूडियो में निर्मात्री रंजू सिन्हा आ सुदीप पाण्डेय का हाथे नारियल फोड़वा के एगो भोजपुरी फिल्म “कसम तिरंगा के” के संगीत मुहुर्त करावल गइल. देश के बचावे खातिर आपन जान दे देबे वाला नायक का कहानी पर बनल एह फिल्म के दुखान्त भोजपुरी सिनेमा केपूरा पढ़ीं…