– पाण्डेय हरिराम पश्चिम बंगाल में एह घरी प्रवासी राजस्थानियन, जिनका के एहिजा मारवाड़ी कहल जाला, आ सरकार में तनाव पैदा हो गइल बा. आमरी अस्पताल कांड में गिरफ्तार निदेशकन का मामिला में फिकी के बयान पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के प्रतिक्रिया से राज्य के मारवाड़ी बहुते नाराज लउकत बाड़े.पूरा पढ़ीं…

Advertisements

जी-9 इंटनेटमेंट का बैनर तले बनत फिल्म ‘‘दिल तोहरे प्यार में पागल हो गईल’’ के पोस्ट प्रोडक्शन पूरा हो गइल आ अब फिलिम के होली का मौका पर बिहार में रिलीज कइल जाई. फिल्म के निर्माता कमलेश यादव आ निर्देशक इकबाल बख्श हउवे. ‘निरहुआ रिक्शावाला’ से चर्चित कॉमेडियन मनोज सिंहपूरा पढ़ीं…

भोजपुरी फिलिम ‘मुन्ना पांडे’ के आइटम नंबर से भोजपुरी सिनेमा में आपन शुरूआत करे वाली पंजाबी कुड़ी ‘कोमल ढिल्लन’ के अदाकारी दर्शकन के खूबे भावत बा. इनकर लटका झटका लोग के बहुते नीक लागत बा. पंजाबी अलबम से शुरू हो के कई गो पंजाबी फिल्म आ सीरियल कइला का बादपूरा पढ़ीं…

(पाती के अंक 62-63 (जनवरी 2012 अंक) से – 12वी प्रस्तुति) – आनन्द संधिदूत ओनइसवीं सदी के आखिरी दशक आवत-आवत ददरी के मेला बलिया में एगो दुर्घटना घट गइल. भइल ई कि कातिक के प्रमुख नहान आ बकरीद एके दिन पड़ गइल. नतीजा ई भइल कि हिन्दू-मुसलमान दूनो का हामाहूमीपूरा पढ़ीं…

(पाती के अंक 62-63 (जनवरी 2012 अंक) से – 11वी प्रस्तुति) – मनोकामना सिंह शाम के, घर लवट के अइला पर देख के चेहरा उदास पूछली माधो के मेहरारू रउरा मुँह काहे लटकवले बानीं? बंगला के पाँच अस बनवले बानीं ? कहलें माधो, ”का कहीं, कपार बथऽता टन-टन करऽता“! ”अजीपूरा पढ़ीं…

(पाती के अंक 62-63 (जनवरी 2012 अंक) से – 10वी प्रस्तुति) – गंगा प्रसाद अरुण नानी हो, बहुते इयाद आवेला तोहार खास करके तब जबकि पापा-मम्मी दूनो लोग चलि जाला अपना-अपना आफिस-स्कूल बन कइके हमनी के ताला में. जानेलू, घर में कबो-कबो आ जालें स नेउर-बिलाई आ डेरा जाइले हमनीपूरा पढ़ीं…

परम ज्ञानी रावण का सोझा भोजपुरी फिलिमन के खलनायक संजय पांडे के का औकात ! बाकिर पिछला दिने संजय पांडे अपना फिल्म ‘पागल प्रेमी’ खातिर छत्तीसगढ़ में रावण के विशाल पुतला का सोझा एगो अइसन खतरनाक स्टंट कइले जवना के देख के लोग दांते अंगूरी काटे लागल. ई स्टंट संजयपूरा पढ़ीं…

भोजपुरी भाषा के दुनिया भर में फइलावे वाला भोजपुरी सिनेमा के मेगा स्टार आ गायक मनोज तिवारी के सुने खातिर सिलीगुड़ी के लोग बहुते दिन से आस लगवले रहुवे. ई आस अब पूरा होखे वाला बा. अगिला एगारह फरवरी के सिलिगुड़ी में ‘भोजपुरी भजन संध्या’कार्यक्रम होखे वाला बा जवना मेंपूरा पढ़ीं…

भारत के पहिलका भोजपुरी म्यूजिक चैनल “संगीत भोजपुरी” पर अब रउरा भोजपुरी फिल्मो के आनंद उठा सकीले. हर शनिचर रात आठ बजे आ अतवार दुपहरिया दू बजे से भोजपुरी के लोकप्रिय फिलिमन के देखावल जाला. एह फिलिमन में मनोज तिवारी आ मिथुन चक्रवर्ती के फिल्म “भोले शंकर”, पवन सिंह केपूरा पढ़ीं…

भोजपुरी फिलिमन के एह घरी छाप लिहले बाड़न निर्देशक दिनेश यादव. हालांकि बतौर निर्देशक दिनेश यादव के पहिला भोजपुरी फिल्म ह ‘धड़केला तोहरे नावे करेजवा’ जवन एह घरी खूबे चरचा बिटोरत बिया. आदि शक्ति इण्टरटेनमेंट के एह फिल्म ‘धड़केला तोहरे नावे करेजवा’ के निर्देशित करे से पहिले दिनेश यादव चर्चितपूरा पढ़ीं…

लोग अपना व्यस्त जीवन से कुछ पल चोरा के हंसल-हँसावल चाहेले आ एही खातिर टी वी पर देखावल जात कॉमेडी शो देखे बइठेले. बाकिर का सही मायने में आजुकाल्हु के कॉमेड़ी शो देख के दर्शक हँसेले कि उनुका दुअर्थी संवाद झेले के पड़ेला. पूरा परिवार एक साथे बइठ के एहपूरा पढ़ीं…