No Image

मिर्जा खोंच पर केंद्रित प्रवेशांक

May 2, 2011 OmPrakash Singh 3

समीक्ष्य कृति : भोजपुरी जिंदगी (त्रैमासिक पत्रिका) प्रकाशन अवधि : अक्टूबर-दिसंबर, 2010 वर्ष : 1 अंक : 1 सहयोग : 25 रुपए / सालाना : […]

No Image

डॉ.अब्दुल कलाम कइलन “भोजपुरी सिनेमा के पचास साल” के विमोचन

April 30, 2011 OmPrakash Singh 2

कुलदीप श्रीवास्तव के लिखल हिन्दी किताब ‘भोजपुरी सिनेमा के पचास साल : २५ चर्चित फिल्में’ के विमोचन पिछला दिने दिल्ली के हिंदी भवन का सभागार […]

No Image

डॉ.अब्दुल कलाम कइलन "भोजपुरी सिनेमा के पचास साल" के विमोचन

April 30, 2011 Editor 2

कुलदीप श्रीवास्तव के लिखल हिन्दी किताब ‘भोजपुरी सिनेमा के पचास साल : २५ चर्चित फिल्में’ के विमोचन पिछला दिने दिल्ली के हिंदी भवन का सभागार […]

No Image

“श्रीरामकथा” : सामाजिक परिवर्तन के एगो महाकाव्य

April 19, 2011 OmPrakash Singh 2

“श्रीरामकथा” भोजपुरी में सामाजिक परिवर्तन के एगो प्रबंध काव्य बा.एकर रचयिता डॉ श्रद्धानंद पांडेय भोजपुरी के मूर्द्धन्य साहित्यकार हईं.एह काव्य में भलहीं रामभक्त कवि के […]

No Image

"श्रीरामकथा" : सामाजिक परिवर्तन के एगो महाकाव्य

April 19, 2011 Editor 2

“श्रीरामकथा” भोजपुरी में सामाजिक परिवर्तन के एगो प्रबंध काव्य बा.एकर रचयिता डॉ श्रद्धानंद पांडेय भोजपुरी के मूर्द्धन्य साहित्यकार हईं.एह काव्य में भलहीं रामभक्त कवि के […]

No Image

लोकतांत्रिक पत्रकारिता के आईना हवे 'कही अनकही'

March 23, 2011 Editor 1

– प्रो॰ जगदीश्‍वर चतुर्वेदी उत्तर-पूर्वी राज्यन अउर पश्चिम बंगाल में हिन्दी पत्रकारिता में लोकप्रिय अखबार ‘सन्मार्ग’ के महत्वपूर्ण भूमिका बा. ई एह क्षेत्र के सबले […]

No Image

लोकतांत्रिक पत्रकारिता के आईना हवे ‘कही अनकही’

March 23, 2011 OmPrakash Singh 1

– प्रो॰ जगदीश्‍वर चतुर्वेदी उत्तर-पूर्वी राज्यन अउर पश्चिम बंगाल में हिन्दी पत्रकारिता में लोकप्रिय अखबार ‘सन्मार्ग’ के महत्वपूर्ण भूमिका बा. ई एह क्षेत्र के सबले […]