4 जनवरी, 2011 के सूर्य ग्रहण हमनी के राशि पर प्रभाव

– वैभव नाथ शर्मा

हर खगोलीय घटना के प्रभाव सम्पूर्ण सृष्टि आ ब्रह्माण्ड के पिंड ( ग्रह, राशियन) पर अवश्य पड़ेला. चाहे ऊ अल्पकालिक होखे भा दीर्घकालिक, बाकिर पड़ेला जरुर. त आईं जानल जाव कि 4 जनवरी, 2011 के सूर्य ग्रहण हमनी के राशि पर का प्रभाव डाली.

04 जनवरी, 2011 के दिन पड़े वाला सूर्य ग्रहण धनु आ मकर राशि में घटित हो रहल बा. ग्रहण का समय चन्द्रमा शुक्र के पूर्वाषाढा नक्षत्र में गोचर करत रहीहन. ई सूर्य ग्रहण देश के जवना प्रदेशन में दिखाई दीहि ओहिजे के लोगन के एहसे जुड़ल दान-स्नान कर के बा अइसन नइखे. दान के पुण्य केहू ले सकेला. 04 जनवरी 2011 के ग्रहण धनु आ मकर राशि आ पूर्वाषाढा जन्म नक्षत्र वाला व्यक्तियन के खास करके प्रभावित करी.

मेष
कठिन परिश्रम, खास कर के विद्यार्थियन खातिर, के जरुरत, सुख में कमी, परिवार में कलह, संतान से कष्ट, मानसिक तनाव की स्थिति, धन के अपव्यय, आर्थिक क्षति के आसार. प्रेम संबन्ध में तनावकारक.

वृ्ष
सुखानुभव के प्राप्ति, पारिवारिक सुख में वृ्द्धि, पारिवारिक विवाद के अंत, समस्या समाधान के मार्ग प्रशस्त, पारिवारिक आवश्यकता पर धन खरच, परिवार के महत्व्यपूर्ण जिम्मेदारियन के बढ़िया से निर्वहन.

मिथुन
व्यापारिक निवेश से नुकसान, दांपत्य सुख में कमी, जीवन साथी से मनमुटाव आ तनाव हो, साझेदारी व्यापार में गलतफहमी, व्यापारिक लेनदेन में गड़बड़ी. सोच समझ के सलाह लेके व्यापारिक आ परवारिक निर्णय लीं आ बोली पर लगाम जरुरी.

कर्क
मानसिक तनाव, खराब स्वास्थ्य, शत्रु हावी हो सकेलें, व्यापारिक लेन देन में सचेत रहला के जरुरत नात हानि के बड़हन योग, कर्जा लिहल दिहल नुकसान दी.

सिंह
मान सम्मान में कमी, सामाजिक राजनीतिक स्थिति चिंताजनक, कवनो झूठ कलंक भा अपयश के स्थिती , केहू दोसरा पर अतिविश्वास नुकसानदायक, आर्थिक लेनदेन में धोखा. अतिआत्मविश्वास में निर्णय मत लीं, ना त केहू पर विश्वास करीं. कार्य-व्यापार के गुप्त बात दोसरा से मत जनाईं. आर्थिक क्षति आ धन नाश के प्रबल योग.

कन्या
आजीविका के क्षेत्र में विशेष उपलब्धि, रुकल भा अधूरा कमा सिद्ध करे के बढ़िया समय, व्यापार विस्तार के योजना पर लागे के सही समय. परिवार का साथे कवनो धार्मिक स्थान पर समय बितावे के प्रयास करीं.

तुला
बकाये धन मिले के बढ़िया अवसर, आर्थिक पक्ष के मजबूती, मानसिक कष्ट से मुक्ति, बेजरुरत यात्रा आ धन खरचा से बचीं. धन संचय के दिशाईं सार्थक प्रयास, विदेश के व्यावसायिक यात्रा लाभ दी. धार्मिक कार्य में रुझान बनी.

वृ्श्चिक
कुटुंब में वाद-विवाद, अकारण भाई से मतभेद, मानसिक तनाव, आर्थिक लाभ के योग, दुःख संताप में वृद्धि, काम के दबाव आ व्यस्तता. कुसंगत से बचीं. वाहन के गति पर काबू राखीं, बोली आ व्यवहार ठीक राखीं. लोभ लालच में गलत काम मत करीं.

धनु
धोखा, छलावा के संभावना, दोसरा का बात में आ के धन के निवेश नुकसान दी, महत्ववाला निर्णय लेने में कमजोरी भा हीन भावना, नेतृत्व क्षमता में कमी, अपना मेहनत पराक्रम का बल पर अपना के साबित करे के मौका मिली. संघरंष से पाछा मत हटीं.मातृ सुख में कमी.

मकर
सामाजिक मान – सम्मान, धन, प्रभाव के हानि संभव बा. शत्रु नुकसान कर सकेलें. कोर्ट कचहरी जाये के अनेसा बा. दबाव में कवनो फैसला मत लीं. निवेश के योजना से दूर रहीं. पारिवारिक सहयोग में कमी रही. दुर्घटना के अनेसा बा.

कुम्भ
धन, आय में वृद्धि आ आय प्राप्ति के उतम योग. अति आत्मविश्वास नुकसानदेह होखी. मन के भटकाव से बचा के काम में लगाईं. पारिवारिक आ व्यापारिक सहियोगियन के पूरा सहयोग आ लाभ मिली. निर्णय लेबे के क्षमता बढ़ी.

मीन
कुछ गंभीर संकट के अनेसा. बनत सफल होत काम बिगड़ सकेला. पारिवारिक तनाव, मानसिक चिंता, संतान पक्ष से कष्ट, खरचा बेकाबू हो सकेला. आत्मविश्वास बनवले राखीं. शिव आराधना से राह लउकी.


ग्रहण काल में का करीं ?

सूर्यग्रहण मे मंत्र जाप

पंचाक्षरी मंत्र – ॐ नम: शिवाय ।।

अष्टाक्षर गोपाल मंत्र – श्रीकृष्ण शरणं मम ।।

अष्टाक्षर विष्णु मंत्र – ॐ नमो नारायणाय नम:।।

गायत्री मंत्र – ॐ भूर्भुव: स्व:। तत्सवितुर्वरेण्यं भर्गो देवस्य धीमहि। धियो यो न: प्रचोदयात् ।।

महामृत्युंजय मंत्र – ॐ त्र्यम्बकं य्यजा महे सुगन्धिम्पुष्टि वर्द्धनम् उर्व्वा रुक मिव बन्धनान् मृत्योर्म्मुक्षीय मामृतात् ।।.

एकरा बाद आदित्यहृदय स्तोत्र के पाठ कइल आ सूर्य मंत्र के जाप आ सूर्य सम्बन्धी दान फायदेमंद होला.


वैभव नाथ शर्मा जी प्रतिष्ठित वास्तु शास्त्री, अंक शास्त्री, आ ज्योतिषी हईं. इहाँ के कार्यक्रम अलग अलग टेलीविजन चैनलन पर आवत रहेला. काशी के होखला का चलते भोजपुरी से विशेष अनुराग बा आ अँजोरिया के पाठकन खातिर ज्योतिष आ वास्तु शास्त्र से जुड़ल आपन सलाह समय समय पर देत रहे के तइयार हो गइनी. वैभवनाथ शर्मा जी राजज्योतिषी परिवार से आवेनी. आशा बा कि वैभवनाथ शर्मा जी के आलेख से अँजोरिया के पाठकन के कुछ लाभ मिली.

अपना व्यक्तिगत समस्या खातिर रउरा शर्मा जी से संपर्क कर सकीलें. उहाँ के संपर्क सूत्र नीचे दिहल जा रहल बा
फोन : +91-9990724131
ई मेल : vaibhava_vastuvid@yahoo.co.in