टाइम्स आफ इण्डिया पर एम जे अकबर के ब्लॉग में नयका लेख मनमोहन सिंह के डिनर डिप्लोमेसी पर लिखल गइल बा. अकबर साहब लिखले बाड़न कि आठ साल से बिना कुछ दिहले समर्थन के मलाई काटत मनमोहन एक बेर फेरु मुलायम से समर्थन चाहत बाड़न बिना कुछ दिहले. एह फेर में पता ना का गुफ्तगू भइल बाकि अतना त तय बा कि कवनो खास हासिल ना हो पावल मनमोहन के.

अपना प्लान बी वाला मायावती के मनमोहन सिहं के डिनर खाए के नंबर बाद में मिलल. बाकि मायावती अतना चतुर राजनेता हई जे पता ना चले दिहली कि ई बात उनका खतना खराब लागल.

आवे वाला संसद सत्र में मनमोहन का सोझा ममता के चुनौती बा. हालांकि ऊ जानत बाड़ी के पहाड़ा के खेल उनका पाला में नइखे. बाकि तबहियो यूपीए के खेल बिगाड़े में ममता आपन चाल चल चुकल बाड़ी. मुलायम आ मायावती अपना समय के इंतजार में बा लोग आ जहिया मिली तहिया पटकनिया देबे से बाजो ना आई लोग.

एह बीच एगो अउर एम एह खेल में तुतुही बजा दिहले बा. हैदराबाद के एक सांसद वाली पार्टी एमआईएम यूपीए टू से आपन समर्थन वापिस ले लिहले बिया. एगो संसद से जतना फरक पड़े वाला बा ओहू ले बेसी चिंता के बात बा कि ई एगो लहर के सूचक बा. आसाम, यूपी, बंगाल हर जगहा के मुसलमान अब ई देखत बाड़ें कि केकरा साथे गइला से उनुका बेसी फायदा होखे वाला बा. दू हाली कांग्रेस के सरकार बनववला के कवनो फायदा ओह लोग के नइखे लउकत आ एहसे अब नवही मुसलमान खास मुसलमाने पार्टियन के साथे बहे लागल बाड़न भले ऊ पार्टी जमातेइस्लामी के समर्थन लेत होखे. एम जे अकबर लिखले बाड़न कि गुजरात के नरेन्द्र मोदी सरकार का तनखाह पर मुसलमान भलही बंगाल सरकार से अधिका होखसु बाकिर एकर फायदा मोदी के ना मिली. हँ बंगाल के वाम मोर्चा सरकार के एकर भुगतान जरूर करे पड़ल. आ अब मुसलमानन के पता चलल बा कि गुजरात के हर थाना में जतना मुसलमान सिपाही बाड़ें ओतना कवनो कांग्रेसी राज के पुलिस थाना भा मुलायमो के यूपी के थाना में नइखन.

एह सब से कांग्रेस के मिले वाला सनेसा एकदमे साफ बतावत अकबर साहब लिखले बाड़न कि अगर मुसलमान कांग्रेस का पीछे खड़ा ना भइलन त ओकर लुटिया गोल होखल तय बा. अब बस इहे देखे के बा कि मुलायम आ मायावती कांग्रेस के एगो अउर बजट पेश करे के मौका देबे के तइयार बाड़न कि ना.

Advertisements