हिन्दी सिनेमा के मशहुर लेखक के॰ के॰ सिंह अब भोजपुरी सिनेमा के कहानी, पटकथा, आ संवाद लिखे के काम दिनेशलाल यादव निरहुआ के फिल्म “औलाद” से शुरु कइले बाड़न. भोजपुरी सिनेमा के सबले बड़ कमजोरी एकर कथा पटकथा होले. जबकि फिल्म “औलाद” के खास बात इहे कथा पटकथा संवाद बन गइल बा जे दर्शकन के अपना से जोड़ के रख ली. बतावल जात बा कि एह काम खातिर के॰ के॰ सिंह के एगारह लाख रुपिया दिहल गइल जवन अबले कवनो भोजपुरी फिल्म लेखक के नइखे मिलल. औलाद के निर्देशन असलम शेख के बा.


(स्रोत : प्रशान्त निशान्त)

Advertisements