एह घरी उत्तर प्रदेश के चुनावी माहौलो में, जब पुलिस बहुते सक्रिय बिया, बनारस में शनिचर सिंह नाम के एगो खूंखार अपराधी दहशत फइला के रखले बा. प्रशासन ओकरा सोझा बेचारा बनि गइल काहे कि ओकरा दू दू गो महारथी राज कुमार पांडे अउर दिलीप जायसवाल से शह मिलत बा.. वइसहो शनिचर सिंह के खासियत रहल बा कि जहँवे जाले तहँवे आतंक मचा देल. एह घरी ऊ बनारस में बाड़े. आ ओहिजा ऊ खुद नइखन आइल उनुका के राज कुमार पांडे आ दिलीप जायसवाल बोलावा भेजके बोलवले बाड़े.

सोचत होखब कि ई शनिचर सिंह आखिर ह के आ कब आ गइल ? त बता देत बानि कि नाम आ काम बदले में माहिर आ खलनायिकी के सिरमौर मानल जाये वाला एह शख्स के असली नाम ह अवधेश मिश्रा, जवन केहु के परिचय के मोहताज नइखन. अपना अदाकारी से भोजपुरी खलनायकी में नया रंग भर देबे वाला अवधेश मिश्रा भोजपुरी के नंबर वन निर्देशक राज कुमार आर.पांडे के फिल्म “गंगा के सौगंध” में शनिचर सिंह नाम के खलनायक का किरदार में बाड़न. अपना हर फिल्म में अपना अभिनय से सभका के कायल बना देबे वाला अवधेश मिश्रा के एह फिल्म में एगो नया लुक दिहल गइल बा.

बकौल अवधेश – ऊ एगो कलाकार हउवन आ उनुकर कोशिश रहेला कि अपना किरदार में बदल जासु, ओकरा के आत्मसात कर लेसु. अगर कलाकार अपना एह काम में सफल हो जाव त परदा पर एकर बढ़िया रिजल्ट देखे के मिलेला.

बहरहाल शनिचर सिंह के आतंक से घबड़इला के जरूरत नइखे काहे कि शनिचर के फन के कचार मारे खातिर ट्रक ड्राइवर सुपरस्टार पवन सिंह आ राइजिंग स्टार खलासी चिंटू एहिजा मौजूद बाड़े.
अपना न्यूज के रपट

Advertisements