बिहार शताब्दी समारोह का मौका पर रविकिशन सगरी बिहार के बधाई देत कहलन कि रउरा सभे बधाई के पात्र बानी कि बिहार में जनमलीं जवना के अतीत गौरवशाली रहल आ आजु वर्तमानो लहलहात बा. कहलन कि बिहार के गौरवशाली अतीत का बारे में कुछ कहला क जरूरत नइखे काहे कि ओकरा बारे में त हमनी का इतिहास का किताब में पढ़त आइल बानी जा. आ आजु बिहार के वर्तमान अनेके राज्यन खातिर उदाहरण के बाति बन गइल बा.

अपना बारे में बतावत रवि किशन कहलन कि पिछला दस साल में जतना बेर अपना गांवे जौनपुर नइखीं गइल ओहले बेसी त बिहार गइल बानी. रविकिशन के पहिला भोजपुरी फिल्म “सैयां हमार” क शूटिंग बिहारे में भइल रहे. बिहार के हर जिला घूम चुकल बाड़े रविकिशन आ एह दौरान देखलन कि दस साल के पहिले के बिहार आ आजु का बिहार में बहुते बदलाव आइल बा. नीतीश बाबू का बदौलत बिहार आजु मुसुकात लउकत बा. रवि किशन ऊ दिन याद कइलन जब आजु से चार साल पहिले पहिला बेर सरकारी तौर पर “बिहार दिवस” मनावल गइल रहे आ ओह मंच पर रवि किशन मौजूद रहलन.

रवि किशन का शब्दन में कहीं त बिहार दुनिया के ज्ञान बँटलसि, सभ्यता सिखवलसि, लोकतंत्र के सिद्धांत दिहलसि आ बिहारे शासन कइल सिखवलसि. जय बिहारी, जय बिहार !


(उदय भगत के रपट)

Advertisements