लोकप्रिय ‘रामायण’ धारावाहिक में लक्ष्मण के रोल करे वाला अभिनेता सुनील लहरी के पिता आ भोपाल के जानल मानल चिकित्सक डॉ. शिखरचन्द्र लहरी आपन पूरा जिनिगी चिकित्से जगत के दिहलन आ मरला का बाद आपन देहो चिकित्सा जगत के विद्यार्थियन के समर्पित कर दिहले. डा॰ लहरी दस साल पहिले देहदान के संकल्प लिहले रहले आ उनुका निधन का बाद उनुकर ई इच्छा सुनील लहरी समेत पूरा परिजनों पूरा दिहलन.

अभिनेता सुनील लहरी बतवले कि 82 साल का उमिर में पिताजी के निधन भोपाल के चूना भट्ठी स्थित सोम्या विहार कालोनी में हो गइल. तब उनुका ईच्छा मुताबिक पहिले त नेत्र दान खातिर भोपाल के सेवा सदन अस्पताल से संपर्क कइल गइल आ ओकरा बाद भोपाल के कोलार क्षेत्र के जेके मेडिकल कॉलेज के फोरेंसिक साइंस के डायरेक्टर डॉ. डीके सत्पथी से संपर्क कइल गइल. साँझ लगभग छह बजे डॉ. सत्पथी उनुका निवास पर अइलन आ कानूनी औपचारिकता पूरा करा के उनुकर पार्थिव शरीर अपना साथे लेले गइलन.

सुनील लहरी कहलन कि उनुकर दादा भगवानदास लहरीओ आजीवन समाज सेवा से जुड़ल रहले आ पिताजी के उनुकेस प्रेरणा मिलल रहुवे. अब डॉ. लहरी के नाम पर एगो ट्रस्ट बनावल जात बा जवन गरीब विद्यार्थीयन के मेडिकल पढ़ाई खातिर साठ हजार रुपिया तकले के मदद दी. साथही एगो भव्य चिकित्सालयो बनावल जाई. सुनील इहो बतवलन कि डॉ. लहरी एक दिन में 300 आपरेशन के रिकार्ड बनवले रहले आ भोपाल गैस कांड के हजारो पीड़ितन के इलाज कइलन. साल 1930 में एगो आम परिवार में जनमल डा. शिखरचन्द्र लहरी के एह कदम के हर तरफ सराहना होखत बा.


(शशिकांत सिंह के रपट से)

Advertisements