पीआर लोगन से एगो निहोरा

गुजरत समय का साथे कई गो इमेल से सामग्री मँगवला का चलते कई गो इमेल पर रउरा सभे के मेल आवे लागल बा. एह चलते हमरा परेशानी हो रहल बा.

आगे से अगर कवनो इमेल anjoria@outlook.com छोड़ दोसरा इमेल पर आई हमरा लगे त ओकरा के प्रकाशित ना कइल जाई भलही उ anjoria@outlook.com मेलो पर आइल होखे.

एहसे रउरा सभे अपना इमेल में हमार इमेल दुरुस्त कर लीं आ बाकी दोसर इमेल हटा दीं.

ई बात १५ मई का दिन से कड़ाई से लागू होखे लागी.

असुविधा खातिर माफी माँगत

रउरा सभे के,
संपादक,
अंजोरिया समूह

Advertisements