बहुमुखी प्रतिमा के धनी – चुन्नूबाबू सिंगापुरी

देश-विदेश में भोजपुरी एवं हिन्दी व अन्य भाषाओं में रैप शो करने के माध्यम से अपनी अलग छवि बनानी बहुत ही कठिन काम है. परन्तु यह कर दिखाया है चुन्नू सिंगापुरी ने. जी हाँ, सिंगापुर में जन्मे पले-बढ़े चुन्नू सिंगापुरी भोजपुरी, हिन्दी, इंगलिश, चाईनीज, जैपनीज, मलय, इन्डोनेशिया, तमिल इत्यादि 18 भाषाओं के ज्ञाता चुन्नू सिंगापुरी का जन्म सिंगापुर में हुआ है. आज वहीं पर रहकर देश-विदेश में रैप शो करके अच्छी-खासी लोकप्रियता बटोर चुके हैं. उन्हें अंग्रेजी में बिक्की के नाम से भी जाना जाता है.

आपको बता दें कि उनके दादाजी व पिताजी उत्तर प्रदेश के जिला देवरिया के मूल निवासी थे. इसी वजह से भोजपुरिया संस्कार उनके रग-रग में रचा बसा है. पूरे सिंगापुर में एक ही भोजपुरिया रॉकस्टार (सिंगर एवं डाँसर) है जिसे हर भोजपुरी प्रेमी अपने सिर-आँखों पर रखता है.

सिंगापुर में स्थित लक्ष्मी नारायण मंदिर में वे सोहर, गारी, कजरी, बेलवरिया (होली गीत) आल्हा एवं अन्य परम्पारिक गीत का गायन समय-समय पर करते रहते हैं तथा नृत्य में फोक, रैप, धोबियऊ नाच, अहिराऊ नाच, गोड़ऊ नाच, कहरउवा नाच तथा अन्य प्रकार के भोजपुरिया नाच को प्रस्तुत करते हैं. उनकी सबसे बड़ी खासियत है कि वे कोई नशा नहीं करते हैं. सादा जीवन, उच्च विचार के अनुयायी हैं.

चुन्नू सिंगापुरी को बहुमुखी प्रतिभा के धनी इसलिए कहा जा सकता है क्योंकि वे कुशल अभिनेता व डांसर के अलावा सिंगापुर के नेशनल हॉकी प्लेयर तथा नेशनल रेसर भी है साथ ही उन्होंने 42 किमी. का सिंगापुर में मैराथन दौड़ भी दौड़ा है.

उनकी भोजपुरी फिल्म चुन्नूबाबू सिंगापुरी की शूटिंग सम्पन्न हो चुकी है जो भोजपुरी की एक साफ-सुथरी व स्वस्थ मनोरंजकपूर्ण पारिवारिक फिल्म होगी. जिसका निर्माण पोलोनिया वत्स एंटरटेनमेंट के बैनर तले चाईनीज निर्माता के. एस. टेंग द्वारा किया जा रहा है एवं निर्देशक मनोज श्रीपति झा हैं.


(स्रोत – रामचंद्र कुंदन)