भोजपुरी सिनेमा में धमाल मचाने और अपने अपने हॉट सेक्सी बदन से सबको चका चौंध कर देने वाली अभिनेत्री ज्योति जाटव ने अपने फिल्मी करियर की शुरूआत पहली भोजपुरी फिल्म ‘कलुआ बुबुआ’ किया. इनकी दूसरी फिल्म है ‘दामाद चाही फोकट में’. इस हॉट गर्ल का कहना है कि भोजपुरी इन्डस्ट्री में कम कपड़ों को लोग वल्गर बोलकर आपत्ति जताते हैं जबकि आज लड़कियाँ खुले आम सड़कों पर शॉर्ट कपड़े पहनकर घूम रही हैं तो लोग उसपे शर्मिंदगी महसूस नहीं करते बल्कि उसे और घूर घूर कर देखते हैं. रही बात भोजपुरी फिल्म फेमिली के साथ बैठकर देखने की तो उससे ज्यादा हिन्दी फिल्मों में जिस तरह के दृश्य फिल्माये जा रहे हैं कि हम खुद शर्मसार हो जा रहे हैं. लेकिन फिर भी सब परिवार के साथ बैठकर इन्ज्वाय कर रहे हैं. कोई उसपे उंगली नहीं उठा रहा है और फिर उठा के भी कर ही क्या सकता है, उसको तो बननी ही है.
ज्योति का यह अंदाजे बयां कुछ इसी तरह का है जो भोजपुरी निर्देशकों के साथ काम करके कुछ नया करना चाहती है.


(स्रोत – दिनेश यादव)

Advertisements