manoj-mridulसिनेमा भोजपुरी के मेगा स्टार मनोज तिवारी आजु कला्हु लगातार लाईव शो में व्यस्त बाड़े. हाल ई बा कि सबेरे एक शहर में त सँझिया दोसरा शहर में लाईव शो करत नज़र आवत बाड़े. पिछला दिने बिहार के औरंगाबाद में चर्चित उमगेश्वरी मंदिर में पहुंचले आ मां उमगेश्वरी के दर्शन पूजन कइलन. फेर रात में मां उमगेश्वरी महोत्सव में शामिल भइलन. एह बारे में बतावत मनोज तिवारी कहले कि माता उमगेश्वरी मंदिर वाला पूरा इलाका नक्सल प्रभावित ह. ओहिजे पांच दिसम्बर के रात में आयोजित कार्यक्रम में आस-पास के गांवन के करीब दू लाख लोग के भीड़ जुटल रहे उमगेश्वरी माता महोत्सव कार्यक्रम में. एहमें मनोज तिवारी के लगातार पांच घंटा गीत गावे पड़ल जबकि ऊ हमेशा दू अढ़ाई घंटे के कार्यक्रम करेले. सोचले रहले कि अउरिओ कलाकार आइल होखीहे से अपना टीम के गायकन के संगे ना ले गइल रहलन. ओहिजा जब मालूम भइल कि अकेलही गावे क बा त मजबूरन पाँच घंटा ले गावे पड़ल. काहे कि बेहिसाब भीड़ के निराश ना कइल जा सकत रहे. हालांकि मजमा सम्हारे ला दू अढ़ाई सौ सिपाहीओ मौजूद रहले.

कार्यक्रम के बाद सबेरे उठलन त पहाड़ क सुन्दरता देख हैरान रह गइले. माता उमगेश्वरी के दर्शन करे चललन त संगे पांच-छः हजार लोग के जत्था चल पड़ल. लागल कि ओहमें कुछ नक्सलिओ शामिल बाड़े. मंदिर तक जाए में करीब दो हजार सीढ़ि चढ़े पड़ेला. करीब 400 सीढि चढ़ला पर एगो भव्य सूर्य मंदिर के दर्शन भइल. माता उमगेश्वरी के मंदिर में प्रतिमा एगो पत्थर का नीचे दबाइल बा आ ओह पत्थर के आकार शेषनाग जइसन लागेला. एहीजा आ के मनोज तिवारी कुदरत के चमत्कार पर सोचे लगलन. उमगा पहाड़ पर कुल 52 गो मंदिर बा, तालाबो बावने गो बा आ गांवो में 52 गो टोला बा. एहिजा के तालाबो 52 बीघा में बा. अब एह 52 के रहस्य जाने ला मनोज तिवारी दुबारा ओहिजा जाइल चहीहें.


(शशिकांत सिंह, रंजन सिन्हा)

Advertisements