मुम्बई जइसन मायानगरी में आपन एगो अलग पहचान बनावे आइल बिहार के शिव आर्यन अब कवनो परिचय के मुँह ना जोहसु. अपना कड़ा मेहनत आ लगन का दम पर ऊ अनेके हिन्दी धारावाहिकन में अपना अभिनय के जलवा देखा चुकल बाड़ें. बिहार के बाढ़ जिला के शिव आर्यन पटना ए एन कॉलेज से पढ़ाई पूरा कइला का बाद पटने से एम.आई.बी.एम. से हार्डवेयर कम्प्यूटर के शिक्षा लेके इंजीनीयरिंग में आपन भाग्य बनावे में लगलें. बाकिर किस्मत के कुछ अउर इरादा रहे से ऊ साल 2006 में मुम्बई आ गइलन आ रात दिन एक जस करत प्रोडक्शन हाउसन के चक्कर लगावे लगलन. बहुते कोशिश का बाद स्टार प्लस के धारावाहिक ‘राजा की आयेगी बारात’ में अभिनय करे के मौका मिलल. फेर स्टारे प्लस के “संतान” आ डी.डी. वन के ‘‘सपने में आयी सपना’’ में अहम रोल करके अपना जिला आ शहर के नाम रोशन कइलें. ओकरा बाद अनेके वीडियो एलबम आ फिलिमन के आफर खुद बखुद आवे लागल.

शिव आर्यन के पहिला हिन्दी फिल्म निर्देशक चंदन अरोड़ा के “स्ट्रैकर” रहे. ओकरा बाद निर्देशक शाह जमान शेख के ‘‘टर्न ऑफ जहेरा शेख”. आ मैथिली में ‘‘साजन के आंगन में सोलह श्रृंगार’’ में मुख्य भूमिका अदा कइलन. इहे मैथिली फिल्म अब भोजपुरी में ‘‘साजन से पिरितिया हमार’ का नाम से रिलीज कइल जात बा.

शिव फिल्म ‘‘सांवरिया तोसे लागी कैसी लगन’’ में मुख्य किरदार करत बाड़ें. एह फिल्म में पंकज केसरी, मोनालिसा आ शुभीओ शर्मा के साईन कइल गइल बा. फिल्म के शूटिंग एक अगस्त से गोरखपुर में होखे जात बा.

भोजपुरी फिल्म ‘‘दुल्हन’’ में शिव आर्यन रानी चटर्जी संगे काम करीहें त हिन्दी फिल्म ‘‘तेरा इंतजार’’, ‘‘दीदार’’, आ ‘‘लगे रहो एल’’ फिलिमो साईन कइले बाड़ें. हर तरह के रोल करे वाला शिव आर्यन खास करे के एग्री यंग मैन के किरदार कइल चाहेलें.


(संजय भूषण पटियाला के रपट)

Advertisements