Khesari-Aksharaअक्षरा सिंह आजु सिनेमा भोजपुरी के अइसन अभिनेत्री हई जिनकर दर्शक हर जगहा बाड़ें, भोजपुरिया आ गैर भोजपुरिया दुनु तरह के. अक्षरा के अभिनय के चरचा सुन के लोग सिनेमाघर ले खिंचाइल चलल जाला. पिछला दिने “ए बलमा बिहारवाला” फिलिम सेट पर अक्षरा सिंह से बात करे के मौका मिलल त उनुका से बतिया के बहुते नीक लागल. पेश बा ओही बातचीत के कुछ हिस्सा –

आपके करियर क शुरुआत कब, कइसे आ कवना फिलिम से शुरू भइल ?
पापा के ख़ुशी आ मम्मी के अरमान मिलल त हम अपना करियर के कमान धइनी. साल 2011 के बात ह जब फिलिम “सत्य मेव जयते” के डायरेक्टर बबलू सोनी आ निर्माता अनिल सिंह जी हमरा के रवि किशन जी के हिरोइन बनाके हमरा के प्यारे प्यारे से रूबरू करा दिहलें.

एह पहिला फिलिम से का अनुभव मिलल आपके ?
अभिनय के दुनिया कबो पूरा ना होखे वाला दुनिया ह जहाँ कबो संतुष्टि ना मिल पावे. अभिनय के दुनिया कलाकार के हमेशा अउर बढ़िया अभिनय करे ला प्रोत्साहित करत रहेले. हमरा डेग धरते बड़का-बड़का स्टारन संगे बड़की बड़की फिलिम करे के मिलल, प्रोड्यूसरन से पइसा मिलल, डायरेक्टरन से गुन आ तकनीशियन साथे हम गा दिहनी,”सुन साहिबा सुन, ये है प्यार की धुन.” कमाल के दुनिया ह अभिनय के.

आप हाल के सगरी सुपर स्टारन संगे फिलिम कर चुकल बानी आ करत बानी. का का सीखे मिलल एह सुपर स्टारन से ?
सीखे के त हर पल समाज, लोग, परिवेश, माहौल, हालात, परिस्थिति सिखावते रहेले. वइसे हम अभिनय से जुड़ल आयाम सीखिए के फ़िल्मी दुनिया में डेग धइनी. रंगमंच कइनी, कथक में डिप्लोमा लिहनी, वेस्टर्न भा मॉडर्न डांस सीखनी, गायकी सीखनी, वेशभूषा, रूपसज्जा, ड्राइविंग, स्विमिंग, मतलब हम आपन पुरा तइयारी कइए के फिल्म जगत में कदम रखनी. अब हर आदमी के सोच अलग होला, हमनी के स्टारो लोग अलग अलग स्टाइल में माहिर ह. हम ओह लोग के ताल से ताल मिलवनी आ काम शुरू कइनी. चाहे ऊ दिनेश लाल यादव जी होखीं, खेसारी लाल जी होखीं, पवन सिंह जी होखीं, भा रवि किशन जी होखीं. हर पल सिखावेले ई जिनिगी.

“दिलेर” के चरचा आजु हर तरफ बा. आप के कहना का बा ?
दिलेर का बारे में इहे कहब कि हमनी के प्रोड्यूसर्स, डायरेक्टर्स, तकनिशियंस सभे ई फिलिम जरूर देखे. दर्शकन के अथाह प्यार मिलत बा आ खूब चलत बिया ई फिलिम. जबरदस्त फिलिम बावे दिलेर. फाईट, कोरियोग्राफी, कैमरा, तकनीक, गाना, अभिनय सबकुछ बेमिसाल बा एह फिलिम में. जनाब हमरा कहला पर मत जाईं, आपन अकल लगाईं आ ई फिलिम देखीं. फेर हमरा के बताईं कि हमरा बात में कतना दम बा.

आपके फिलिम “प्रतिघात” रिलीज होखे वाला बा, का कहब दर्शकन से ?
“प्रतिघात” नारी सशक्तिकरण के मिसाल वाली फिलिम ह, टीम के सगरी लोग गुनीजन डायरेक्टर आनंद गहतराज जी के कमाल, लेकिन प्रोड्यूसर नीरज यादव जी त कर दिहनी बवाल. रक्षके बन गइल भक्षक एह फिलिम में. कमाल के कहानी लिखले बानी मनोज पाण्डेय जी. दर्शक एह फिलिम के देखसु आ हमरा टीम के सगरी गुनीजन के आपन आशीर्वाद देसु.

अपना आवे वाली फिलिमन क बारे में कुछ ?
“प्रतिघात”, “प्रतिज्ञा-२”, “ये बलमा बिहार वाला”, आ “प्यार झुकता नहीं” आवे वाली बाड़ी सँ. “ए बलमा बिहार वाला” में खेसारी लाल संगे बानी. देखब त कहब कि “वाह”. ई फिलिम अगस्त में रिलीज होखी. हम हर तरह के किरदार पूरा लगन से निभवले बानी जवना के दर्शको पसंद कइले बाड़ें. बिहार गइला पर अथाह जनसमूह के जवन प्यार हमरा मिलेला तवना कि कबो ना भुला पाईं, ना भुलाइब.

दर्शकन ला कवनो सन्देश ?
“मेरा वजूद तुमसे है, मन भी तुम, जान भी तुम, तुमसे है औकात, हजारो बातों में कहना है एक बात, तेरे दम से ही दम है, न छोड़ना मेरा साथ.”
हमार फिलिम देखिं सभे आ आपन नेह बरखावत रही जा. हम हर वक्त कोशिश करब कि कवनो ना कवनो नया किरदार में आप सभके स्वस्थ मनोरंजन करत रहीं. ………आई लव यू ऑल !


(भोजवुड न्यूज)

Advertisements