– आपन न्यूज

Sasuro Kabbo Damad Rahalछोटे परदे पर जहाँ सास बहू अपना कमाल दिखा रही है वहीँ भोजपुरिया परदे पर ससुर – दामाद अपना कमाल दिखाने वाले हैं. इसी माह २६ जनवरी को बिहार में रिलीज हो रही है “ससुरो कब्बो दामाद रहल”.

शिव बम पिक्चर्स के बैनर तले निर्माता शिव कुमार एस. गुप्ता व निर्देशक शैलेश श्रीवास्तव की इस फिल्म में ससुर दामाद की नोक झोक का रोमांचक पहलू उजागर किया गया है. ससुरो कब्बो दामाद रहल में दामाद की भूमिका में हैं प्रसिद्ध गायक अभिनेता गुड्डू रंगीला जबकि ससुर की भूमिका में हैं आनंद मोहन. गुड्डू की प्रेमिका और फिर पत्नी की भूमिका में हैं संगीता तिवारी. फिल्म में शक्ति कपूर भी एक अहम भूमिका में हैं जो एक नौटंकी के मैनेजर बने हैं. फिल्म में पूनम सागर, जफर खान, राजन मोदी, शिवकुमार एस. गुप्ता, मोतीलाल यादव, कोमल आर्य, शेला खान भी अहम् किरदार में हैं. ससुरो कब्बो दामाद में तीन आइटम नंबर है जिन्हें सीमा सिंह व पूनम गौतम पर फिल्माया गया है.

निर्माता शिव कुमार एस. गुप्ता के अनुसार ससुरो कब्बो दामाद रहल पूरी तरह से एक मसाला फिल्म है जिसमे मनोरंजन का हर रंग भरा गया है. गुड्डू रंगीला के अनुसार उनकी भूमिका एक ऐसे दामाद की है जो अपने ससुर की आँखे खोलने के लिए उन्हें परेशान करता है और यह बताने में सफल हो जाता है की अच्छाई की राह पर चल कर इंसान अपनी मंजिल पा सकता है. अमन शलोक की संगीत से सजी इस फिल्म के गीतकार अशोक शिवपुरी, अमरेन्द्र अर्पण व अरविन्द तिवारी है. फिल्म के सह निर्माता राजेश जयसवाल व जलधारी यादव है. फिल्म की कहानी व संवाद लिखी है विनोद मिश्रा ने, कोरियोग्राफर हैं भूपी व ज्ञान सिंह. छायांकन जयंतो घोष का है जबकि कार्यकारी निर्माता जफर खान है. फिल्म की शूटिंग उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में की गयी है. निर्माता ने इस फिल्म को भोजपुरी के प्रसिद्ध निर्माता स्व॰ सुधाकर पाण्डेय को समर्पित किया है. निर्माता शिव कुमार गुप्ता के अनुसार सुधाकर पाण्डेय की बदौलत ही आज भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री विशाल बन पायी है, इसीलिए जब उन्होंने पहली फिल्म बनाने का प्रस्ताव आया तो उन्होंने फैसला किया कि वो इसे सुधाकर पाण्डेय को श्रद्धांजलि फिल्म के रूप में लेंगे.

Advertisements

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.