संगीत निर्देशन में डूबल बाड़न छोटे बाबा

ChhoteBabaअनेके भोजपुरी फिलिमन में हिट संगीत देवे वाला संगीतकार छोटे बाबा एह साल के शुरुए से व्यस्त हो गइल बाड़ें. काहे कि उम्दा संगीत के तलाश आम संगीत प्रेमियन क साथही हर निर्मतो-निर्देशक के रहेला. एही वजह से बढ़िया गीत चुने, निर्माता, निर्देशकन से मीटिंग सीटिंग करे, आ बढ़िया संगीत बनावे में ऊ दिन पर दिन व्यस्त होखल जात बाड़ें. बाकि एकरा बावजूद छोटे बाबा नयका-पुरनका निर्माता-निर्देशक आ गायकनो के ओतने समय दीहें जतना देत आइल बाड़ें.

एगो सवाल के जवाब में छोटे बाबा बतवलें कि *संगीत क शौक हमरा बचपने से रहल बा, बाकि आजु जब बढ़िया संगीतकारन में हमार नाम लिहल जात बा त हमरा बहुते ख़ुशी होला. संगीत निर्देशन में व्यस्त ज़रूर बानी बाकि काम के बढ़िया से पूरा कइल हमार पहिलका काम होला, हर फिलिम के संगीत हमरा ओतने प्रिय होला जतना एगो माई के आपन बेटा. हम हमेशा बढ़िया संगीत बनावल चाहीलें काहे कि आदमी के असल पहचान ओकर कामे होला.”

छोटे बाबा के संगीत निर्देशन गरदा, जियत रहनी तोहरे खातिर, दुल्हिन, विराज तड़ीपार, एक लैला तीन छैला आ बलमा बिहार वाला में सुने के मिली. उनके निर्दशन में गायक मनोज तिवारी के एतिहासिक अल्बम *जय बिहार …* चरचा के विषय बनल बा.


(अपना न्यूज़)

Advertisements

Be the first to comment on "संगीत निर्देशन में डूबल बाड़न छोटे बाबा"

Leave a Reply

%d bloggers like this: