दर्शकन के प्यार से गदगद बा महुआ : पी॰के॰तिवारी

भारत में बोलल जाये वाली दूसरकी सबले बड़ भाषा भोजपुरी के आम परिवारन का बईठका में प्रतिष्ठापित करे वाला टीवी चैनल महुआ टी॰वी॰ के तिसरका साल शुरु हो चुकल बा. एह खातिर चैनल के अध्यक्ष सह प्रबन्ध निदेशक पी॰के॰तिवारी दर्शकन से मिलल नेह से गदगदाइल बाड़न. भोजपुरी गीत संगीत के प्रतिष्ठापन, भोजपुरी सिनेमा के बड़हन बाजार मुहैया करवला से ले के भोजपुरिया संस्कृति आ समाज के आगा बढ़ावे में लागल महुआ टीवी के अध्यक्ष सह प्रबन्ध निदेशक पी॰ के॰ तिवारी से भइल बातचीत के कुछ अंश एहिजा दिहल जा रहल बा.

महुआ टीवी के तिसरका साल में प्रवेश का मौका पर ढेरहन बधाई.
बहुते धन्यवाद. साँच कही त बहुते सफल रहल बीतल दू साल के सफरनामा. महुआ एगो जनमाध्यम ह आ चैनल का रेटिंगे पर ओकरा व्यावसायिक सफलता आ विज्मापन के बात होखेला. हमनी के चैनल के आजु सगरी खास ब्रांडन के विज्ञापन मिल रहल बा आ इहे बतलावत बा कि हमनी के बड़हन दर्शकन बाड़े. पिछला साल भइल आ एहू साल चल रहल सुरसंग्राम आ पूरा हो चुकल डांस संग्राम के सफल रेटिंगो हमनी के लोकप्रियता बखानत बा.

कहल जा रहल बा कि महुआ टीवी यूपी आ बिहार में कई गो दोसरा मनोरंजन चैनलन के मजगर चुनौती दे रहल बा. राउर राय ?
अब हम का कहीं ? अतने कह सकीलें कि महुआ परिवार दर्शकन के प्यार आ सहयोग से गदगद बा. हमनी पर ओह लोग के विश्वास आ हमनी के कार्यक्रम के प्यार का बदौलते हमनी के ई जगहा मिलल बा. एकरा के हमनी के सफलता कहीं कि आज के मनोरंजक चैनल हमनी के भोजपुरिया थीम्स पर आपन धारावाहिक बना रहल बाड़ी स.

दर्शकन खातिर महुआ चैनल का नया ले के आवत बा ?
महुआ हरर उमिर आ पसन्द के दर्शकन खातिर नया नया शो ले के हाजिर हो रहल बा. आजुकाल्ह पारिवारिक धारावाहिक अखण्ड सौभाग्यवती, संगीतप्रेमियन खातिर सुर संग्राम २, जय जय शिवशंकर आ लड़िकन खातिर एगो खास रियलिटी शो, कॉमेडी शो वगैरह परोसल जा रहल बा.

महुआ बांगला के शुरुआत भइल बा. ओहिजा कइसन बाजार बा ?
देखीं, कम्पटीसन त हर जगहा बा. बांगला के बाजार जमल जमावल होखला चलते तनी तगड़ा कम्पटीशन मिलत बा. हमनी का एगो फुटबाल आधारित शो ले के आपन लांचिग कइनी जा. फेर कई गो फिक्शन ले के आवत बानी जा.कुछ फिलिम वालन से अपना चैनल खातिर फिलिम बनावे के प्रस्ताव दिहले बानी जा. हमनी के उमेद बा कि भोजपुरिये चैनल महुए लेखा बंगलो चैनल दर्शकन का दिलो दिमाग पर छा जाई.

आगा का करे के बा ?
बस देखत जाईं…


(स्रोत – प्रशान्त निशान्त)

Advertisements

4 Comments

  1. HME SURSANGRAM-2 KA PROGRAM ACHHA LAGAL LEKIN
    SANIWAR KE TRIALR DEKHNE KE BAD BAHUT HI DIL TUT GAYA BHAI MANOJ AND RAVIHISHAN KE NOK-JHOK YEHA TAK KI MARPIT KA NOUBAT AA GAIL BAHUTE HI SARAM KI BAT HE HAMARA BHOJPURI KO SAMBHALKAR RKHE .

    AAP KA
    DINESH CHANDRA GUPTA
    A/P- VIDYA BHAWAN NARAIANPUR
    DIST- BALLIA (UP)277213
    CAMPOT- KOLKATA(TCI)

    • दिनेश जी जान के खुशी भइल कि रउरो लगे कार्यक्रम प्रसारित होखे से पहिले ओकर खबर चहुँप गइल आ रात आठ बजे से देखावल जाये वाला कार्यक्रम दुपहरिये में देखि के रउरा आपन टिप्पणी भेज दिहनी. वइसे रउरा थोड़ देर इन्तजार कर लेबे के चाहत रहुवे.

      रउरा टिप्पणी में से एक वाक्य काट दिहले बानी काहे कि थपड़ी एक हाथ से ना बाजे. जवन भइल तवना में दुनो जने शामिल रहले. के शुरूआत कइल के जवाब दिहल, ई सब का फेर में नइखे पड़े के.

      राउर
      संपादक

Comments are closed.