किताबि आ पत्रिका के परिचय–12

डॉ. नंदकिशोर तिवारी द्वारा संस्कृत के कवि भास के भोजपुरी में अनूदित कुछ नाटक

डॉ. नंदकिशोर तिवारी संस्कृत के कवि भास के एगारह गो नाटकन के भोजपुरी में अनूदित कर

चुकल बानी. ई सभ नाटक रोहतास जिला भोजपुरी साहित्य परिषद, निराला साहित्य मंदिर,

बिजली शहीद, सासाराम, रोहतास (बिहार) से प्रकाशित भइल बाड़े सन. एहिजा उहाँके कुछ

(निम्नांकित) नाटकन के प्रस्तुत कइल जा रहल बा-

  1. उरूभंग
  2. दूतवाक्यम्
  3. कर्णभार एवम् मध्यम व्यायोग-
  4. स्वप्नवासवदत्तम्
  5. दूत घटोत्कच

विश्वास के साथ कहल जा सकत बा कि एह अनूदित नाटकन के स्तरीयता असंदिग्ध बा आ

भोजपुरी साहित्य इहनी पर गर्व कर सकता.

– डॉ. रामरक्षा मिश्र विमल

rmishravimal@gmail.com