किताबि आ पत्रिका के परिचय – 6

निर्भीक संदेश

nirbhik-sandesh-5” निर्भीक संदेश” ओझा प्रकाशन, जमशेदपुर से डॉ. अजय कुमार ओझा के संपादन में प्रकाशित होखेवाली भोजपुरी-हिंदी के साहित्यिक पत्रिका हटे, जवना के प्रकाशन सन् 2003 से हो रहल बा. एकरा एक प्रति के कीमत 15/ रुपिया आउर आजीवन के 500/ रुपिया बाटे.

पत्रिका अपना लघु आकार में भी आकर्षक, पठनीय सामग्री से भरपूर आ संग्रहणीय बिया. हम त अतने कहबि-

“देखन में छोटन लगैं घाव करैं गंभीर.

एहसे निर्भीक संदेश के एक बेर जरूर पढ़ल जाव.( nirbhiksandesh@gmail.com )

– डॉ. रामरक्षा मिश्र विमल

ramraksha.mishra@yahoo.com

nirbhik-sandesh-1 nirbhik-sandesh-2 nirbhik-sandesh-3 nirbhik-sandesh-4

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *