DAnand

– डी आनन्द

पानी से सस्ता गरीबन के खून बा,
लागऽता देसवा में दू गो कानून बा.

जे बा छूछे ओकरा, काहे केहू पूछे,
दुनिया-जहान, बिना पइसा के सून बा.

केस लटियाइल ब‌ा, सरसो के तेल बिना,
बड़का लोगवा खातिर, तेल जैतून बा.

ओकर सभे जुर्म, हो जाला माफ हो,
बड़का होटल में, जेकर हनीमून बा.

कानूने के रक्षक बन गइल भक्षक हो,
अदालतो में लागत बा लाग गइल घून बा.

जे भ्रष्टाचारी बा ओकरा चुन के मारऽ,
मन में ‘डी आनन्द’ के, इहे जुनून बा.


अभिनेता गायक एंकर गीतकार आ समाजसेवी डी आनन्द पश्चिमी चंपारण के वाल्मीकि नगर में रहेले. इनकर एगो धारावाहिक ‘सास ननद बी आ गोनू झा’ जल्दिए शुरू होखे वाला बा.
संपर्क : danand.danand@gmail.com

Advertisements

1 Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.