No Image

दू नाव पर पैर रखला पर जिनगी ना चली.

March 18, 2016 Editor 0

– अभय कृष्ण त्रिपाठी “विष्णु” एक व्यक्ति दू नाव पर सवारी, कइसे ? समस्या विकट बा आ ओहु से विकट बा ओकर समाधान. सबसे बड़ […]

Advertisements
No Image

भोजपुरी आजु ले जिन्दा बिया अउरी आगहूं जियत रही

July 18, 2015 Editor 2

– अभय कृष्ण त्रिपाठी “विष्णु” श्रद्धालु कभी परेशान ना होले, परेशानी उनकर बा जे यात्रा अउरी तीर्थयात्रा दुनो के लाभ लेबे चाहत बा. ठीक इहे […]