चलीं दिल्ली…….. भोजपुरी खातिर विशाल धरना प्रदर्शन 9 अगस्त 2017 का दिने दिल्ली के जंतर मंतर पर होई भोजपुरिया जुटान भोजपुरी के संवैधानिक मान्यता आ आठवीं अनुसूची में शामिल करावे के माँग का साथे “भोजपुरी जन जागरण अभियान” के बैनर तले राष्ट्र स्तर पर चलावल जा रहल भोजपुरी भाषा मान्यतापूरा पढ़ीं…

Advertisements

एक साल पहिले अखिल भारतीय भोजपुरी साहित्य सम्मेलन के रजत जयन्ती अधिवेशन पटना में 28-29 दिसंबर 2013 के करावल गइल रहे. तब एह मौका पर ओह घरी भाजपा के महासचिव रहल रविशंकर प्रसाद कहले रहले कि, ‘ई भाषा के मिठास सबके दिल जीत लेला. अटल जी प्रधानमंत्री रहलन त मैथिलीपूरा पढ़ीं…

– अजीत दुबे हाल ही में संघ लोकसेवा आयोग एगो जनहित याचिका के अनुपालनक करत मुंबई उच्च न्यायालय में हलफनामा दिहले बा कि सिविल सेवा परीक्षा में उम्मीदवार कवनो मान्यता प्राप्त भाषा मे साक्षात्कार दे सकेलें. भारतीय भाषा आ ओकरा के बोलेवालन खातिर ई बहुते खुशी आ गौरव के बातिपूरा पढ़ीं…

भारत के एक हजार साल पुरान देशज भाषा भोजपुरी अपने देश में आजु सौतेलापन के शिकार बिया. राजनेतवन आ केंद्र सरकार के अनदेखी का चलते भोजपुरी दसियन बरीस से संवैधानिक मान्यता खातिर तरसत बिया. खास त ई बा कि दुनिया के सोलह देश के 20 करोड़ से बेसी लोग केपूरा पढ़ीं…

भोजपुरी आ राजस्थानी के संविधान के आठवीं अनुसूची में शामिल करे के चरचा ढेर दिन से चल रहल बा. भोजपुरी त वइसन टुअर हिय जेकर कवनो माई बाप नइखे. कवनो राज्य नइखे जे भोजपुरी के लड़ाई लड़ि सको. संजोग से राजस्थानी के लड़ाई लड़े खातिर राजस्थान सरकार मौजूद बिया. एहपूरा पढ़ीं…

आजे का दिन 30 मार्च 2009 के गोंडा का लगे वैशाली एक्सप्रेस में हृदयाघात से डा. प्रभुनाथ सिंह के मौत हो गइल. उहां के दिल्ली से छपरा जात रहनी. ओकरा एके दिन पहिले हमार उहाँ से बातचीत भइल रहे . – ना, अभी हमरा इहां हमार टी वी नइखे आवत.—-हपूरा पढ़ीं…

हमनी का अकसरहा एगो माँग सुनीले कि भोजपुरी के संविधान के आठवीं अनुसूची में शामिल कइल जाव. बाकिर केहू ना कहे कि ओहसे पहिले एकरा के हिंदी के चंगुल से आजाद कइल जाव. एगो सुनियोजित षडयंत्र का तहत भोजपुरी के स्वतंत्र अस्तित्व गँवे गँवे मेटावल जा रहल बा. जनगणना मेपूरा पढ़ीं…

दिनांक 22 फरवरी 2011 के दिल्ली स्थित प्रेस क्लब ऑफ इंडिया में भोजपुरी समाज दिल्ली का सौजन्य से एगो प्रेस कांफ्रेस के आयोजन भइल जवना के मकसद रहे मारीशस के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री जगदीश गोवर्धन के 50 दिवसीय ‘भारत भोजपुरी यात्रा’ का सिलसिला में उनुकर कोशिश आ विचारन से मीडियापूरा पढ़ीं…

सोमार का दिने लोकसभा में एगो ध्यानाकर्षन प्रस्ताव के माध्यम से भोजपुरी के संविधान के आठवीं अनुसूची में शामिल करे के माँग कइल गइल. मुखर सांसदन में संजय निरुपम, जगदम्बिका पाल, डा॰रघुवंश नारायण सिंह, पी एल वगैरह शामिल रहले. सांसद के जोरदार माँग पर प्रणव मुखर्जी के कहे के पड़पूरा पढ़ीं…