ओकरा सउँसे चाहीं – बतंगड़-86

May 26, 2018 Editor 0

नामी ज्ञानी आ विचारक लोग बड़हन-बड़हन ग्रन्थ लिख के ओतना ना समुझा पावे जतना एकाध लाइन में ट्रक-बस का पाछे लिखे वाला बरनन कर जाले. […]

Advertisements