भोजपुरी के मान्यता के राह देखत एगो अउर बरीस बीत गइल बाकिर कतहूं कवनो संकेत नइखे लउकत. साफ लउकत बा कि सरकार एहसे उदासीन बिया. बाकिर उमीद के दीया अबहीं जरऽता आ आवे वाला दिन में ई सुने के ना मिली कि भोजपुरिया लोग कवनो दोसरा समाज से कवनो मायनेपूरा पढ़ीं…

Advertisements

सोलहवी लोकसभा खातिर उत्तर-पूर्वी  दिल्ली से भाजपा के  उम्मीदवार मनोज तिवारी अपना चुनाव प्रचार में भरोसा दिलावत बाड़न कि- मोदी सरकार बनी त भोजपुरी भाषा के संविधान के आठवीं अनुसूची में शामिल करावल हमार सबसे पहिला काम होखी. पिछला दस साल से कांग्रेस हमनी, यानी भोजपुरी के मांग करेवाला, लोगन के अश्वासन दे केपूरा पढ़ीं…