– डाॅ. अशोक द्विवेदी बहुत पहिले एक बेर क्रिकेट देखत खा, भारत के ‘माही’ मिस्टर धोनी का उड़त छक्का के कमेन्टरी वाला ‘हेलीकाप्टर शाट ‘ का कहलस, ओके नकलियावे क फैशन चल निकलल. नीचे से झटके मे़ ऊपर उठावे वाला ई हेलिकाप्टर स्टाइल विज्ञापन वाला ले जाके लेहना काटे वालापूरा पढ़ीं…

Advertisements

– पाण्डेय हरिराम सरकार आ जनता के रिश्ता पर बात करे के होखे त बहुते दिक्कत बुझाला. अब परे साल रामलीला मैदान में अधरतिया भइल पुलिस कार्रवाईए के बात लीं. एह पर पिछला बियफे का दिने कोर्ट फैसला सुनवलसि. ई फैसला ओह सबले बड़ सवाल के रेघरिया दिहले बावे जवनापूरा पढ़ीं…

– पाण्डेय हरिराम आजुकाल्हु अइसन लागे लागल बा कि मानो भ्रष्टाचार आ साम्प्रदायिकता देश के सबले बड़हन समस्या बाड़ी सँ आ एकनी के खतम होखते देश के सगरी समस्या खतम हो जाई. कांग्रेस के ८३ वाँ महाधिवेशन सोमार का दिने खतम हो गइल. एह अधिवेशन में पार्टी अध्यक्षा सोनिया गाँधीपूरा पढ़ीं…

– पाण्डेय हरिराम अबही नीरा राडिया टेप कांड के मसला गर्मे चलत रहल ह आ एकरा में कई जने बड़हन आ आदर्श कहाए वाला मशहूर पत्रकार दलाली करत सुनल गइलें. एही बीच अतवार का रात एगो बहस का दौरान कुछ पोढ़ वक्ता कह दिहलें कि राज्यसभा बाजार बन गइल बियापूरा पढ़ीं…

– पाण्डेय हरिराम देश के हर आदमी जवना सिस्टम में जी रहल बा ओहिजा के मूलमंत्र ह . “ई सब चलेला एहिजा”. ओह हालत में नियम-कायदा ताक पर राख दिआला. जेकरा मौका मिल जाव उहे नियम तूडल आपन अधिकार मानेला – कतहीं कम, कतहीं ज्यादा. जब ई अधिकार बिकाये लागेपूरा पढ़ीं…

भोला बाबू खीसे फनफनाइल रहलें. पुछनी कि का बात हऽ त बिफर पड़लें. कहे लगले, नीतीश त हदे कर दिहलें. अइसनो कइल जाला ? लोकतंत्र के कमजोर कर के राख दिहलें, राहुल गाँधी के बेइज्जत कर दिहलें, आ लालू से पता ना कवना जनम के दुश्मनी निकाल लिहलें. कुछ देरपूरा पढ़ीं…