– प्रिंस रितुराज दुबे सबसे बड़हन सवाल ई बा कि कतना लोग आपन माईभासा (भोजपुरी) ला एकजुट बा. कतना लोग के आपन अस्तित्व से मतलब बा, चाहे कतना लोग ई कह के निकल जाला कि एकरा फेरा में पड़ के कउनो खाए के मिले वाला बा. अगर इहे बात झारखण्डपूरा पढ़ीं…

Advertisements

भोजपुरिका अबले ओही राह पर चलत आइल जवन अँजोरिया देखवले रहुवे. भोजपुरी के बढ़ावा देबे का मकसद से एहिजा हर प्रचार सामग्री के प्रकाशित कर देबे के परंपरा रहुवे. कई बेर एह जानकारी का बावजूद कि फिलिम पिटा गइल बिया ओकर प्रचार सामग्री प्रकाशित करत रहल बानी. बाकिर खस्सी केपूरा पढ़ीं…

ढेर दिन से एगो हिट फिल्म खातिर तरसत भोजपुरी फिल्म उद्योग के पिछला शुक का दिने खुशखबरी मिलल कि ओह दिन रिलीज भइल फिल्म “मार देब गोली केहू ना बोली” के उम्मीद से बेसी सफलता मिलल बा. सीतामढ़ी के शंकर सिनेमा के उदाहरण देखावे लायक बा जहाँ कि ओकरा क्षमतापूरा पढ़ीं…

अबकी का छठ पर्व का पावन मौका पर भोजपुरी सिनेमा के बादशाह सितारा दिनेश लाल यादव निरहुआ के फिल्म “लोफर” रिलीज होखे जा रहल बा. मोनिका सिंह के निर्माण आ संजय सिन्हा के प्रस्तुति “लोफर” के निर्देशन रवि सिन्हा कइले बाड़े. रवि सिन्हा के निर्देशित “भोजपुरिया डॉन” आजुकाल्हु चारो ओरपूरा पढ़ीं…

भोजपुरिया आकाश पर आजु काल्हु एगो नया आदित्य, माने कि सूरज, चमके का तइयारी में बा … आ एह सूरज के नामो हऽ आदित्य ओझा. फिल्मी परिवेश में पलाइल बढल आदित्य वइसे त भारतीय प्रशासनिक सेवा का तइयारी में लागल बाड़न बाकिर अभिनय के शौक उनुका का वजह से ऊपूरा पढ़ीं…