“गंगादेवी” एक ट्रेंड सेटर फिल्म साबित होगी – अभिषेक चड्ढ़ा

by | Dec 6, 2011 | 1 comment


भोजपुरी फिल्मों का माहौल और मिजाज़ थोड़ा अलग है. यहाँ लीक से हटाते ही दर्शकों का हाजमा बिगड़ने लगता है. ऐसे में अगर कोई लीक तोड़ने की जिद्द पर कामयाबी से अड़ा रहे, उनकी कोशिश दाद के काबिल है. अभिषेक चड्ढ़ा ऐसे ही निर्देशक हैं, जो अपनी हर फिल्मों में प्रयोग की तरजीह देते हैं. उनकी पिछली फ़िल्में ‘गंगा’, ‘गंगोत्री’, ‘वाह! जीजाजी’ औरअब ‘गंगादेवी’ इस बात का एक और सबूत पेश करेगी. उन्होंने गंगादेवी में कथानक के स्तर पर भी एक नया प्रयोग किया. फिल्म में शिवपुर के जिस महिला सरपंच गंगादेवी की कहानी को उन्होंने आधार बनाया हो, वो अपने स्तर ही एक साहसिक कदम है.. पहली बार उन्होंने बैडमैन यानि गुलशन ग्रोवर और जया बच्चन को भोजपुरी दर्शकों से रु-ब-रु कराने का भी बीड़ा उठाया. बतौर निर्देशक अभिषेक चड्ढ़ा की खासियत ये है कि वो उन चीजों से छेड़-छाड़ नहीं करते, जो भोजपुरी फिल्मों की आत्मा है. लेकिन एक तयशुदा दायरे में होने के बावजूद उनकी फ़िल्में लकीर का फकीर नज़र नहीं आती.. बहरहाल, गंगादेवी में इस बार उन्होंने दिनेशलाल यादव (निरहुआ), पाखी हेगड़े, गिरीश शर्मा, अवधेश मिश्रा और गुलशन ग्रोवर जैसे बड़े सितारों का मजमा लगाया है. इनके अलावा अमिताभ बच्चन और जया बच्चन इस फिल्म के खास आकर्षण होंगे.. अभिषेक चड्ढ़ा ने गंगादेवी में हर कलाकार को परम्परागत इमेज से बाहर निकालकर एक नया प्रयोग करने की कोशिश की है. इस एक्सपेरीमेंट में वो कितना कामयाब होते हैं ये तो वक्त ही बताएगा…


(स्रोत – स्पेस क्रिएटिव मीडिया)

Loading

1 Comment

  1. deepak kumar

    dear sir
    i m big fan of ur film.i had seen ur most of ur film.i m a coustume designer.and i had done three hindi serial.
    now i want to work in bhojpuri film.so sir plz help me.cont me-09654533508

Submit a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

अँजोरिया के भामाशाह

अगर चाहत बानी कि अँजोरिया जीयत रहे आ मजबूती से खड़ा रह सके त कम से कम 11 रुपिया के सहयोग कर के एकरा के वित्तीय संसाधन उपलब्ध कराईं. यूपीआई पहचान हवे - भा सहयोग भेजला का बाद आपन एगो फोटो आ परिचय
anjoria@outlook.com
पर भेज दीं. सभकर नाम शामिल रही सूची में बाकिर सबले बड़का पाँच गो भामाशाहन के एहिजा पहिला पन्ना पर जगहा दीहल जाई.
अबहीं ले 13 गो भामाशाहन से कुल मिला के सात हजार तीन सौ अठासी रुपिया (7388/-) के सहयोग मिलल बा. सहजोग राशि आ तारीख का क्रम से पाँच गो सर्वश्रेष्ठ भामाशाह -
(1)
अनुपलब्ध
18 जून 2023
गुमनाम भाई जी,
सहयोग राशि - एगारह सौ रुपिया

(3)

24 जून 2023 दयाशंकर तिवारी जी,
सहयोग राशि - एगारह सौ एक रुपिया
(4)
18 जुलाई 2023
फ्रेंड्स कम्प्यूटर, बलिया
सहयोग राशि - एगारह सौ रुपिया
(7)
19 नवम्बर 2023
पाती प्रकाशन का ओर से, आकांक्षा द्विवेदी, मुम्बई
सहयोग राशि - एगारह सौ रुपिया

(11)
24 अप्रैल 2024
सौरभ पाण्डेय जी
सहयोग राशि - एगारह सौ रुपिया

पूरा सूची
एगो निहोरा बा कि जब सहयोग करीं त ओकर सूचना जरुर दे दीं. एही चलते तीन दिन बाद एकरा के जोड़नी ह जब खाता देखला पर पता चलल ह.

संस्तुति

हेल्थ इन्श्योरेंस करे वाला संस्था बहुते बाड़ी सँ बाकिर स्टार हेल्थ एह मामिला में लाजवाब बा, ई हम अपना निजी अनुभव से बतावतानी. अधिका जानकारी ला स्टार हेल्थ से संपर्क करीं.
शेयर ट्रेडिंग करे वालन खातिर सबले जरुरी साधन चार्ट खातिर ट्रेडिंगव्यू
शेयर में डे ट्रेडिंग करे वालन खातिर सबले बढ़िया ब्रोकर आदित्य बिरला मनी
हर शेेयर ट्रेेडर वणिक हैै - WANIK.IN

Categories

चुटपुटिहा

सुतला मे, जगला में, चेत में, अचेत में। बारी, फुलवारी में, चँवर, कुरखेत में। घूमे जाला कतहीं लवटि आवे सँझिया, चोरवा के मन बसे ककड़ी के खेत में। - संगीत सुभाष के ह्वाट्सअप से


अउरी पढ़ीं
Scroll Up