फिलिमन के असल नायक ओकर विषयवस्तुए होखेला – आनन्द डी गहतराज

by | Feb 27, 2013 | 0 comments

AnandGahatrajआप कहाँ के हईं आ फिलिम निर्देशन में आवे के मन कइसे भइल?
हम पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग के हईं. कैमरा के शौक रहल त फोटोग्राफीए से आपन कैरियर १९८० से शुरू कइनी. बाद में निर्देशन के मैदान में आ गइनी.

सिनेमेटोग्राफी से निर्देशन करे अइला के कारण का रहल ?
एक बेर हम गायक उदित नारायण जी आ श्रेया घोषाल के संगे ओह लोग के एगो कार्यक्रम शूट करे लंदन गइल रही. लंदन के रायल अल्बर्ट हॉल में कैमरा ले गइला पर पाबंदी रहल बाकिर हमहूं लुकावल कैमरा से एगो ना तीन गो प्रोग्राम शूट कइनी. ओही के विजअल देख उदित जी हमरा के ’कब होई गवनवा हमार’ फिलिम के निर्देशन ला अनुबंधित कइलन आ हमार निर्देशन के सफर शुरू हो गइल.

राउर शूट कइल कुछ फिलिमन के नाम ?
परिंदा, 1942 लवस्टोरी, मिशन काश्मीर, करीब, देवदास वगैरह में हम कैमरा सम्हरनी. आ सहारा में सहायक डीओपी पर ज्वाइन कइले रहीं.

भोजपुरी फिलिमन के अधिका से अधिका दर्शक मिलसु एह ला राउर सलाह का बा ?
हमरा लागेला कि भोजपुरी फिलिमन से अगर दूअर्थी संवाद आ फूहड़पन निकाल दिहल जाव त पहिलहीं जइसन सभका देखे लायक बने लागी भोजपुरी फिलिम. दर्शक अब फूहड़पन से उबिया गइल बाड़ें. ओकरा अब फिलिमन में भोजपुरी संस्कृति के झलक चाहीं.

फिलिमन में कथावस्तु के का महत्व बा ?
हम त इहे मानीलें कि असल में फिलिमन के नायक कथावस्तुए होखेला. एक बेर रविकिशन जी कहले रहन कि हॉल में त हम दर्शकन के रोक सकीलें बाकिर बढ़िया कथानक बिना बढ़िया बिजनेस मुश्किल बा.

अपना आवे वाली फिलिमन का बारे में कुछ बताईं?
लड़ाई, खेला, कट्टा माफिया तीनों विषय प्रधान फिलिम बाड़ी स

भोजपुरी दर्शकन ला कवनो संदेश ?
दर्शके लोग त हमार सहार बा. ओही लोग के बढ़ावल उत्साह अउरी बढ़िया करे ला उकसावेला. एहसे हम त इहे कहब कि फिलिम देखत रहीं आ हमनी में समाज ला कछ बढ़िया कर जाए के जुनून जनमावत रहीं.


(संजय भूषण पटियाला)

Loading

0 Comments

Submit a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

अँजोरिया के भामाशाह

अगर चाहत बानी कि अँजोरिया जीयत रहे आ मजबूती से खड़ा रह सके त कम से कम 11 रुपिया के सहयोग कर के एकरा के वित्तीय संसाधन उपलब्ध कराईं. यूपीआई पहचान हवे - भा सहयोग भेजला का बाद आपन एगो फोटो आ परिचय
anjoria@outlook.com
पर भेज दीं. सभकर नाम शामिल रही सूची में बाकिर सबले बड़का पाँच गो भामाशाहन के एहिजा पहिला पन्ना पर जगहा दीहल जाई.
अबहीं ले 13 गो भामाशाहन से कुल मिला के सात हजार तीन सौ अठासी रुपिया (7388/-) के सहयोग मिलल बा. सहजोग राशि आ तारीख का क्रम से पाँच गो सर्वश्रेष्ठ भामाशाह -
(1)
अनुपलब्ध
18 जून 2023
गुमनाम भाई जी,
सहयोग राशि - एगारह सौ रुपिया

(3)

24 जून 2023 दयाशंकर तिवारी जी,
सहयोग राशि - एगारह सौ एक रुपिया
(4)
18 जुलाई 2023
फ्रेंड्स कम्प्यूटर, बलिया
सहयोग राशि - एगारह सौ रुपिया
(7)
19 नवम्बर 2023
पाती प्रकाशन का ओर से, आकांक्षा द्विवेदी, मुम्बई
सहयोग राशि - एगारह सौ रुपिया

(11)
24 अप्रैल 2024
सौरभ पाण्डेय जी
सहयोग राशि - एगारह सौ रुपिया

पूरा सूची
एगो निहोरा बा कि जब सहयोग करीं त ओकर सूचना जरुर दे दीं. एही चलते तीन दिन बाद एकरा के जोड़नी ह जब खाता देखला पर पता चलल ह.

संस्तुति

हेल्थ इन्श्योरेंस करे वाला संस्था बहुते बाड़ी सँ बाकिर स्टार हेल्थ एह मामिला में लाजवाब बा, ई हम अपना निजी अनुभव से बतावतानी. अधिका जानकारी ला स्टार हेल्थ से संपर्क करीं.
शेयर ट्रेडिंग करे वालन खातिर सबले जरुरी साधन चार्ट खातिर ट्रेडिंगव्यू
शेयर में डे ट्रेडिंग करे वालन खातिर सबले बढ़िया ब्रोकर आदित्य बिरला मनी
हर शेेयर ट्रेेडर वणिक हैै - WANIK.IN

Categories

चुटपुटिहा

सुतला मे, जगला में, चेत में, अचेत में। बारी, फुलवारी में, चँवर, कुरखेत में। घूमे जाला कतहीं लवटि आवे सँझिया, चोरवा के मन बसे ककड़ी के खेत में। - संगीत सुभाष के ह्वाट्सअप से


अउरी पढ़ीं
Scroll Up