बलात्कार माने बल अति कार.

by | Sep 13, 2016 | 0 comments

– ओ. पी. सिंह

कवनो कार भा कार्य जवन बल का भरोसे – बलाते – कइल जाव ओकरा के बलात्कार मान लीहल जाला. अब बलातो त कई तरह के काम क लीहल जाला बाकिर व्यवहार में ई दू गो विपरीत लिंगियन का बीचे बलाते भइल सेक्स खातिर मान लीहल गइल बा. सम लिंगियन का बीचे भइल एह तरह के सेक्स खातिर दुष्कर्म शब्द के इस्तेमाल होला. बाकिर एही बात के लिंग आ सेक्स के दायरा बढ़ावत समूह आ कार का साथे देखल जाव तो हर छिन कवनो ना कवनो समूह का साथे बलात्कार भा दुष्कर्म होखत मिल जाई.

आजु एह बरजल विषय के चरचा में खास बना के पेश कइला का बहाने हमार मकसद बतंगड़े कइल बा. बाकिर शुरुआत हम नइखीं करत. शुरुआत त यूपी सरकार के मंत्री पहिलहीं क चुकल बाड़न. हम त बस ओकरा के लमारे जात बानी.

यूपी के बुलन्दशहर में भइल रेप पर अगर कतहीं से कवनो बुलन्द आवाज सुने के ना मिलल त महज एह चलते कि जवना अभागन का साथे ई घिनावन काम भइल ऊ ना त अल्पसंख्यक रहलें, ना दलित. एह चलते ना त मीडिया एकर मथैला बनवलसि ना ही नेतवन क जमात ओह अभागन का घरे धावत चहुँपले. ना ही टीवी चैनलन पर एकरा के दलित भा मजहबी मुद्दा बनावे के कोशिश भइल. आ सबले हद त तब पार हो गइल जब मंत्री जी एकरा के राजनीतिक साजिश बना-बता दिहलें. एही लोग के कुकुरबझाँव तब देखे जोग रहल रहीत अगर भुक्तभोगी आ करे वाला उलटा रहतन.

बलात्कार के मुद्दा पिछला सरकार का दौरान एगो अउरो बड़हन साजिश का तहत एह तरह बनावे के कोशिश भइल रहुवे कि देश क ताना-बाना छिन-बिन क दीहल जाव. एहु सरकार में ओही कोशिश के आगा बढ़ावे के कोशिश जारी रहुवे बाकिर सोशल मीडिया आ जनमत का दबाव का चलते ओह कोशिश के छोड़ देबे पड़ल.

दुर्भाग्य के बाति बा कि एह देश के बड़हन समूह अइसनका सवारथियन से पटाइल बा जे अपना फायदा ला देश समाज के का कहीं, बेटीओ-बहिन के सौदा करे में ना हिचकिचइहें. देश के इतिहास में अइसन कहानी भरल बाड़ीं से जवना में देश के अनेके राजा मुगलन के आपन बेटी-बहिन सँउप के आपन राच बचा लीहलें. हालही में अइसनके बेहयाई के एगो गलीज नमूना राजस्थान सरकार के पर्यटन विभाग क देखवलसि जब ऊ पद्मिनी के खिलजी के प्रेमिका बतावत ओह किला के दर्शन करे के नेवत दिहलसि जवना का ऊ बरबाद क दिहले रहे. इतिहास गवाह बा कि ओहिजा रानी पद्मिनी का संगे हजारों औरत आपन अस्मत बचावे खातिर जौहर रचा के जान दे दिहले रही.

बाति एह बीच तनी बहक गइल से लवटत बानी बलात्कार का मुद्दा पर. अपना देश के बड़का ताकत हमनी के परिवार-व्यवस्था ह. पिछलका सरकार में एह परिवार-व्यवस्था के हमेशा-हमेशा खातिर खतम करे का साजिश का तहत बिआहलो मरद-मेहरारु का बीच बलात्कार के मान्यता दे देबे क कोशिश भइल रहुवे. दहेज आ पोक्सो जइसन कानून बना के समाज के हिनबिन कइए दिहल गइल बा. बाकिर अपना दिमाग पर तनिका याद करे के कोशिश करीं कि पोक्सो कानून में असाराम बापू का अलावा कवनो दोसरो समूह के गुरु धराइल बाड़ें कि ना. का बाकी लोगन में अइसन अपराध ना होखे ? बाकी सम्प्रदायन में कमजोर समूहन का साथे दुराव होखे कि ना ? बाकिर हमहन के नेता आ मीडिया खाली एके पंथ का खिलाफ अलख जगवले रहेलें, मजबूत आ एकजुट समूहन का खिलाफ बोलल ई लोग जरुरी ना समुझे भा हिम्मत ना कर पावसु. कुछ राज्यन के हालात त अतना बाउर हो गइल बा कि शुक का दिने रउरा फगुआ ना खेल सकीं. अगर रउरो कवनो इलाका में अल्पसंख्यक हो गइल बानी त रउरा शवदाहो ना क सकीं. सामने वाला के मरजी बिना पूजा-पाठ ना कर सकीं. कुछ महीना पहिले नीतीश सरकार त हवन कइलो प रोक लगा दिहले रहुवे.

कबो एहु बलात्कारन का खिलाफ आवाज उठवला के जरुरत बा.

Loading

0 Comments

Submit a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

अँजोरिया के भामाशाह

अगर चाहत बानी कि अँजोरिया जीयत रहे आ मजबूती से खड़ा रह सके त कम से कम 11 रुपिया के सहयोग कर के एकरा के वित्तीय संसाधन उपलब्ध कराईं. यूपीआई पहचान हवे - भा सहयोग भेजला का बाद आपन एगो फोटो आ परिचय
anjoria@outlook.com
पर भेज दीं. सभकर नाम शामिल रही सूची में बाकिर सबले बड़का पाँच गो भामाशाहन के एहिजा पहिला पन्ना पर जगहा दीहल जाई.
अबहीं ले 13 गो भामाशाहन से कुल मिला के सात हजार तीन सौ अठासी रुपिया (7388/-) के सहयोग मिलल बा. सहजोग राशि आ तारीख का क्रम से पाँच गो सर्वश्रेष्ठ भामाशाह -
(1)
अनुपलब्ध
18 जून 2023
गुमनाम भाई जी,
सहयोग राशि - एगारह सौ रुपिया

(3)

24 जून 2023 दयाशंकर तिवारी जी,
सहयोग राशि - एगारह सौ एक रुपिया
(4)
18 जुलाई 2023
फ्रेंड्स कम्प्यूटर, बलिया
सहयोग राशि - एगारह सौ रुपिया
(7)
19 नवम्बर 2023
पाती प्रकाशन का ओर से, आकांक्षा द्विवेदी, मुम्बई
सहयोग राशि - एगारह सौ रुपिया

(11)
24 अप्रैल 2024
सौरभ पाण्डेय जी
सहयोग राशि - एगारह सौ रुपिया

पूरा सूची
एगो निहोरा बा कि जब सहयोग करीं त ओकर सूचना जरुर दे दीं. एही चलते तीन दिन बाद एकरा के जोड़नी ह जब खाता देखला पर पता चलल ह.

संस्तुति

हेल्थ इन्श्योरेंस करे वाला संस्था बहुते बाड़ी सँ बाकिर स्टार हेल्थ एह मामिला में लाजवाब बा, ई हम अपना निजी अनुभव से बतावतानी. अधिका जानकारी ला स्टार हेल्थ से संपर्क करीं.
शेयर ट्रेडिंग करे वालन खातिर सबले जरुरी साधन चार्ट खातिर ट्रेडिंगव्यू
शेयर में डे ट्रेडिंग करे वालन खातिर सबले बढ़िया ब्रोकर आदित्य बिरला मनी
हर शेेयर ट्रेेडर वणिक हैै - WANIK.IN

Categories

चुटपुटिहा

सुतला मे, जगला में, चेत में, अचेत में। बारी, फुलवारी में, चँवर, कुरखेत में। घूमे जाला कतहीं लवटि आवे सँझिया, चोरवा के मन बसे ककड़ी के खेत में। - संगीत सुभाष के ह्वाट्सअप से


अउरी पढ़ीं
Scroll Up