ज़फर कमाल फिल्म्स एवं पी.एन.पी. क्रियेशन की संयुक्त प्रस्तुति ‘‘गुलाब थियेटर’’ की पूरी यूनिट हाजीपुरी (बिहार) पहुंच गयी है. निर्माता मेंहदी हसन की इस रूमानी फिल्म के लेखक-निर्देशक क़मर हाजीपुरी हैं. इस फिलम में सचमुच के एक लोक कलाकार के जीवन का अक्श दिखाया गया है. एक प्रशिक्षित कलाकार जब जीवन के यथार्थ-रंगमंच पर पहुंचता है, तो कैसे-कैसे हालातों से उसका सामना होता है, यह ‘‘गुलाब थियेटर’’ में दिखाया जायेगा. इस फिल्म की कहानी गुलाब बाई नामक एक थियेटर कालकार से प्रेरित भी है और बनारस की उस मशहूर लोक नृत्यांगना को समर्पित भी. इस फिल्म में एक नाजुक कलानेत्री और एक रफ-टफ ट्रक ड्राइवर की प्रेम कहानी को बड़ी ही खूबसूरती से दिखाने की कोशिश कर रहे हैं, लेखक-निर्देशक क़मर हाजीपुरी. क़मर इस फिल्म को हाथरस के नाटककार नाथाराम गौड़ की स्मृति में समर्पित करेंगे.

‘‘गुलाब थियेटर’’ के मुख्य कलाकार हैं विनय आनंद, कल्पना शाह, सुमीत बाबा, क्षितिज प्रकाश, अर्जुन सिंह और विजय खरे. हाजीपुर के अतिरिक्त सोनपुर व अन्य रमणीय स्थलों पर ‘‘गुलाब थियेटर’’ का फिल्मांकन होगा. फिल्म के संगीतकार सी. वनवीर हैं. उदित नारायण, साधना सरगम, डॉ. नेहा राजपाल, मनोज मिश्र, ऐश्वर्या मजुमदार, सुरेश शुक्ल, अमर आनंद और इंदु सोनाली की आवाज़ में फिल्म के सभी नौ गाने रिकार्ड किये गए हैं. इस फिल्म के कैमरामैन त्रिलोकी चौधरी व सह-निर्मता गुफ़रान अहमद हैं. यह एक स्टार्ट-टू-फिनिश शूटिंग शेड्यूल है.


(स्रोत – समरजीत)

By Editor

कुछ त कहीं...

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.