सिनेमा भोजपुरी के जानल मानल अभिनेत्री अक्षरा सिंह खाली परदे पर दर्शकन के दिल ना जीतसु. परदा का पाछहूं ऊ अपना निस्वार्थ भाव से समाजसेवा में लागल रहेली. हालही में ई देखे के मिलल अक्षरा के नानी सुषमा पंडा के देहांत का बाद. नानी का गमी में आ उनुका के श्रद्धांजलि देबे ला अक्षरा रांची के बहु बाज़ार स्थित ब्लाइंड स्कूल गइली आ ओहिजा के बचवन क साथ ढेर देर ले रहली, ओहनी के भोजन आ उपहार दिहली, देर ले बतियवली आ स्कूल के हर कार्यक्रम में आवे के वादा कइली.

अक्षरा सिंह बतवली कि ई सब कुछ के अनुभव उनका के बहुते सुकून दिहलसि. आपन आँख गँवा चुकल बचवन के दोसरा बचवन का मुकाबले बेसी प्यार के जरूरत होला. काहे कि ऊ त दोसरे के आँख से दुनिया के देखे समुझे के कोशिश करेलें. कहली कि ऊह बचवन में अनेके प्रतिभाशाली बच्चा लउकलन स जवनन का गला में माता सरस्वती बसल बाड़ी. एह बचवन से मिलला का बाद अक्षरा सिंह कुष्ठ रोगियनो के भोजन करवली.


(उदय भगत)

Advertisements