राजनाथ सिंह के माफी मंगला का पीछे का राज बा

पिछला दिने संसद में भइल एगो झका-झूमरी में मीडिया में चर्चा बा कि भाजपा के एगो सांसद रमेश बिधूड़ी बसपा सांसद दानिश अली के एक मिनट में एगारह बेर गरिया…

अपना पुरान कम्प्यूटर के फेरु से उपयोग में ले आईं

अगर राउर कवनो लैपटाॅप ओह पर विन्डोज के नयका संस्करण काम ना कइला का चलते उपयोग में नइखे आ पावत. आ एह चलते घर का कवनो कोना में फेंका गइल…

भउजी हो, तू सनातनी हिन्दू हऊ कि अरामी हिन्दू

भउजी हो ! का बबुआ ? तू सनातनी हिन्दू हऊ कि अरामी हिन्दू ? हम बूझनी ना ? का पूछल चाहत बानी ? इहे कि तू सनातनी हिन्दू हऊ कि…

गोरखपुर के भोजपुरी संगम के 162 वीं ‘बइठकी’

गोरखपुर के 'भोजपुरी संगम' के 162 वीं 'बइठकी' स्व.सत्तन जी का आवास पर, खरैया पोखरा, बशारतपुर, गोरखपुर में इं.राजेश्वर सिंह के अध्यक्षता अउर चन्देश्वर 'परवाना' के संचालन में पिछला दिने…

मीडिया के कुकुरन से एगो सवाल

एह लेख के मथैला पढ़ि के हो सकेला कि कुछ कुकुर नाराज हो जासु. कुछ भनक के भनभनाए लागसु भा कुछ भड़कि के भिड़े ला आ जासु. एहसे सवाल का…

राड़ आ राँड़ के गठबन्हन – बतकुच्चन (207)

देश के राजनीति समुझे बाला एहघरी परेशान बाड़ें. उनुका बुझात नइखे कि हो का रहल बा. एही अझूराहट में हमहूं बानी. कि राड़ आ राँड़ के गठबन्हन कइसे भइल आ…

भउजी हो ! ए-सोशल बनावत सोशल मीडिया

भउजी हो ! का बबुआ ? तू सोशल मीडिया पर काहें ना आव ? रउरे चलते ! हमरा चलते ? हँ, रउरे चलते. सोचीं, अगर हमरा लगे मोबाइल रहीत आ…

भोजपुरी के पहिलका वेबसाइट अँजोरिया के बीस बरीस

आजु 19 जुलाई 2023 का दिने भोजपुरी के पहिलका वेबसाइट "अँजोरिया" के प्रकाशन के बीस बरीस पूरा हो गइल आ एकइसवाँ में डेग धर दिहलसि. एह बीस बरिस में ढेरे…

उल्था आ उलटबाँसि (बतकुच्चन – 206)

आजु ढेर दिना बाद बतकुच्चन लिखे बइठल बानी. करीब पाँच बरिस पहिले हर हफ्ता एगो बतकुच्चन लिखल मजबूरी जइसन रहत रहे. काहें कि कलकत्ता (आजु के कोलकाता) से छपे वाली…

डाँड़ि में दम ना बगईचा में डेरा !

भउजी हो ! सूनलू ह ? का बबुआ ? इहे कि मोदी सरकार सभका ला एके कानून बनावे जा रहल बिया. माने कि हिन्दुवन के कटवावे के नया तइयारी !…