भोजपुरी फिल्म ‘बिदाई’ और ‘बलिदान’ के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के सम्मान सहित अनेकों सम्मानों से सम्मानित भोजपुरी फिल्मों की नम्बर वन अभिनेत्री रिंकू घोष के सम्मानों की लिस्ट में एक और नाम जुड़ गया है और वो है ‘बिहारी अस्मिता सम्मान’. ‘बिहारी खबर’ व ‘बिहारी हेल्प लाइन’ द्वारा बिहारी माटी की शान बढ़ाने वाले विभूतियों को सम्मानित करने के लिए पटना के एस. के. मेमोरियल हॉल में लगातार चौथे वर्ष ‘बिहारी अस्मिता सम्मान समारोह’ का आयोजन किया गया. इस समारोह में समाजसेवी डॉ. पी.एन. सिंह, संत कुमार चौधरी व भुवनेश्वर झा ‘भुवन’, वाशिंगटन विश्वविद्यालय के भाषायी शिक्षा के प्राध्यापक एम.जे. वारसी, सौभाग्य मिथिला चैनल के प्रमुख प्रफुल्ल कुमार, ए.एन. कॉलेज के प्राचार्य डॉ. हरिद्वार सिंह, उद्योग जगत में परचम लहराने वाले उमाशंकर भगत, रोहित वाफना, केपी ठाकुर व अमित कुमार सिंह, चिकित्सक व समाजसेवी डॉ. हरेन्द्र सिंह एवं डॉ. सुजाता सुम्बरूई, सुरक्षा प्रबंधन विशेषज्ञ विकास वर्मा, भोजपुरी भाषाविद् बीएन तिवारी, अभियंता अनिल सिंह, बिहार ओलंपिक एसोसिएशन के उपाध्यक्ष डॉ. अजय ना. शर्मा, मानस मर्मज्ञ परमानंद शर्मा, कृषि विशेषज्ञ संजीव श्रीवास्तव, भोजपुरी फिल्म अभिनेता सुदीप पाण्डेय, नम्बर वन भोजपुरी अभिनेत्री रिंकू घोष, भोजपुरी फिल्मों के खलनायक अवधेश मिश्रा, विधिवेत्ता शंभुनाथ राय तथा प्रशासनिक सेवा के सौरभ कुमार दास को विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय योगदान देने के लिए ‘बिहारी अस्मिता सम्मान’ से सम्मानित किया गया.

इस सम्मान से समाजसेवी व शैक्षिक संगठनों को भी सम्मानित किया गया, जिनमें लोक कलाकार भिखारी ठाकुर आश्रम, बिहार फाउंडेशन मुंबई चैप्टर, मां वैष्णो देवी सेवा समिति, श्री इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी शामिल है. इन विभूतियों को गुजरात के पूर्व राज्यपाल कैलाशपति मिश्र, बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री डा. जगन्नाथ मिश्र, सांसद रविशंकर प्रसाद, बिहार सरकार के मंत्री चन्द्रमोहन राय, सुनिल कुमार पिन्टू, जनार्दन सिंह सिग्रीवाल, श्याम रजक, प्रेम कुमार, गिरिराज सिंह, विधायक दिलमणि देवी, अरुण कुमार सिन्हा व धर्माचार्य डा. उमाकान्तानंद सरस्वती जी महाराज के हाथो सम्मान प्रदान किया गया.

इस अवसर पर कार्यक्रम के अध्यक्ष अश्विनी कुमार सिंह, सचिव निशिकांता भी उपस्थित थीं.

इस अवसर पर डा. एम. कुमार, डा. डिम्पल कुमारी, डा. प्रभात रंजन, जीवन कुमार, नीरज कुमार व उदय भगत को विशेष सम्मान प्रदान किया गया. तत्पश्चात् भिखारी ठाकुर के संगी रहे कलाकारों द्वारा ‘बेटी वियोग’ नाटक का मंचन किया गया. मंच संचालन अजय कुमार सिंह ने किया. इस अवसर पर आयोजन समिति के विपिन कुमार सिंह, भारत भूषण सिंह, सुमन कुमार सिंह, कुलदीप मिश्रा, विश्वजीत कुमार अमित व नवीन कुमार सिंह का योगदान सराहनीय रहा.


(स्रोत – शशिकान्त सिंह, रंजन सिन्हा)

Advertisements