सुर संग्राम में शामिल भइलें पपलू प्रतिभागी

शुक का दिने बिहार के प्रिया राज के विदाई का बाद भोजपुरी के लोकप्रिय चैनल महुआ टीवी के रियलिटी शो सुरसंग्राम के दूसरका सीजन में छह गो प्रतिभागी बाचल रहले. बाकिर ओहू लोग के मालूम रहे कि बीच में कुछ पपलू प्रतिभागी घुसावल जइहें जिनका से अबतक जीतत आइल लोग के संघर्ष करे के पड़ी. पिछलको बेर इहे भइल रहे. प्रतिभागी एह बाति से संतोष कर सकेले कि पिछला बेर कवनो पपलू अन्तिम तीन में ना चहुँपल रहे.

आजु शनिचर से सुर संग्राम के सीजन दू में आठ गो नया पपलू शामिल कइल जा रहल बाड़े. बिहार आ यूपी से चार चार गो. शो के शुरुआत एंकर मनोज तिवारी अपना गायकी से करीहें आ प्रतिबागियन के नया पपलू प्रतिभागियन से जोरदार टक्कर करे के सलाह दीहें. ओकरा बाद सूफी गायिका रेखा भारद्वाज मंच पर अइहें आ अपना एगो लोकप्रिय गीत से धमाकेदार इंट्री मरीहें.

नयका पपलू प्रतिबागियन में से दू गो प्रतिभागी, बिहार आ यूपी से एक एक गो, के विदाई आजुवे हो जाई. बाकी बचल छह जाने में से दू प्रतिभागी अगिला शुक के चुनल जइहें जे मिल के सुर संग्राम में आठ गो हो जइहें. आ आठो जने तब सुर संग्राम के विजेता के दावेदार बने खातिर जूझीहें.

आजु शामिल हो रहल पपलू प्रतिभागियन में बिहार से अभिषेक तिवारी, शुभा लक्ष्मी, राँची के नीलम गुप्ता आ बोकारो के चंदन तिवारी रहीहें. यूपी से शामिल होखे वालन में विशाल ठाकुर, प्रियव्रत मिश्रा, अभिषेक अरुण आ सौरभ रहीहें.

हालांकि जाने लायक बाति होखी कि एह पपलूवन के चुनाव कवना आधार पर कइल जाला. उम्मीद कइल जाव कि शायद एंकर का माध्यम से एह बाति के जानकारी दर्शकन के दिहल जाई. वइसे ई उम्मीद उम्मीदे रहि जाव त कवनो अचरज ना होखी.


(स्रोत : प्रशान्त निशान्त से मिलल सामग्री का आधार पर)

2 Comments

  1. Bahut achaa lagal ki Bhojpuri k suprasidh website Anjoria apan likhe k shaili banawe ke chakar me kuch bat bhulaa jaala.je bhi likhle baa okar dhnyawaad dehum ki ‘Paplu’ shabd ke prayog kaile ba. rauwaa hisaab se sabhe paploo rahe. Dekhal jae ta har kehu apna jeewan me kabo na kabo paploo rahbe karela.Rauwo kabo paploo hokhem .koi mai ke pet se samraat banke na aawela.
    Thik ba , bahot acha lagal ki humni ki k hi smaaj ke budhijivi bhojpuria bhai log aise kalam chalaawela.Jon alochna ke bora odh ke apne pariwar k majaak banawela.

    Abhishek Arun
    Rauaa hisaab se ‘Paploo’ pratibhagi.

    • अभिषेक भाई,
      हमरा एह बात के अफसोस बा कि रउरा पपलू शब्द पर अतना दुख भइल. बाकिर हमरा समुझ में वाइल्ड कार्ड इन्ट्री ला पपलू शब्द के प्रयोग सहज लागल रहे. रउरा दुख से हमरो दुख भइल बाकिर पपलू के ताकत के रउरा अनदेखी क दिहनी. पपलू ताश के खेल में बहुते ताकतवर पत्ता मानल जाला काहे कि ओकरा के कवनो जगहा पर लगावल जा सकेला.

      अगर हमार जानकारी गलत होखे त बतावल जाई.
      अपने के,
      ओम

Comments are closed.