मोदी जी झोरा उठावे के समय आ गइल बा

by | Jun 6, 2024 | 0 comments

आदरणीय मोदी जी,

आजु ले हम अपना लेखन में रउरा के मोदी लिख के काम चला लेत रहीं बाकिर आजु भरल मन से बिना मोदी जी लिखले कुछ लिखल नीक नइखे लागत.

बहुत कोशिश कइनी रउरा कि एह देश के भाग बदल जाव, हिन्दू सभ्यता संस्कृति आपन विरासत सम्हार लेव आ देश में सभकर साथ आ सभकर विश्वास हासिल कर के सरकार आपन काम करे. बाकिर रउरा भुला गइनी कि ई हरामखोरन के देश हऽ. एहनी के चाहीं सब कुछ आ बदला में रउरा के एगो वोटो देबे लायक ना समुझऽ सँ. आ बहुसंख्यक हिन्दू समाज में अपना जाति से अलग सोचे के चाहत नइखे. ससुरन के ई नइखे पता कि जब धरमे ना बाची त जाति बचा कइसे बाच पाई. पूरा हिन्दुस्तान में भरल बाड़ें अइसन लोग जिनकर बाप दादा परदादा माई दादी कवनो लालच में भा आपन जान बचावे खातिर सबकुछ गँवा दिहलें. आ अब ओह लोगन के संतति के भरपूर कोशिश बा कि बाकी जे बाच गइल बा सेहू ओकरा साथे मिल जाव. शायद तब पूरा देश एक हो जाई. शायद ! दुनिया के इतिहास भरल पड़ल बा कि एके रिलीजन वाला देशनो में मार-काट होत रहेला. हिन्दूवन के त कवनो देशे नइखे रहि गइल. रउरा बाकी देशन से लात जूता खा के, धन संपति इज्जत गँवा के हिन्दुस्तान आवे वालन के नागरिकता देबे के सोचत बानी. बाकिर का कबो एहू पर सोचले बानी कि जे एहिजा से भगावल जइहें ऊ कवना जगहा ठाँव पइहें.

आ इहो मान लीं कि रउरा आपन सरकार चलावे में अतना मशगूल हो गइनी कि रउरे परछाईं तर का हो रहल बा. अगर यूपी, महाराष्ट्र, आ पश्चिम बंगाल बेसी ना त पिछलके बेर जतना साथ दे दिहले रहीतें त रउरा एह दल बदलूअन, पलटीमारन के तलवा चाटे के नौबत ना आइल रहीत. आवास, गैस, शौचालय, अनाज वगैरह बाँटे में त रउरा कवनो भेदभाव ना कइनी बाकिर मिलल का ! एकमुश्त वोट दे दिहलन सँ रउरा के हरावे वाला के. यूपी में जवन हालात बनल ओकर जिम्मेदारी के ली ? आ कि प्लान इहे बा कि योगी बाबा का कपारे दोष मढ़ के निकल जाइल जाव. यूपी में जवन भइल तवना ला रउरो ओतने जिम्मेदार बानीं.

का जरुरत बा कि रउरा अइसन नेतवन के चिरौरी करीं जवनन के कवनो भरोसा नइखे कि काल्हु रउरा साथे रहीहें सँ कि ना. हम त एगो छोट मोट मनई हईं बाकिर हमरो कहलका के गाँठ बान्ह लीं. राउर ई तिनगोड़ा सरकार ढेर दिन ले ना चल पाई. काहे कि रउरा मनमोहन जइसन मोट चमड़ी नइखीं पवले. पीएम का कुरसी पर बइठला का लालच में ऊ जवन जवन बेइज्जति सहलन का रउऱा चाहत बानी कि रउरो सहे के पड़े ! मान जाईं, अबहीं देर नइखे भइल. उठा लीं झोरा आ चल दीं. कम से कम इज्जत त बाँचल रहि जाई कि समझौता ना कइलसि हरामखोरन से. देश के चूल्हेभाँड. में जाए के बा. केहू रोक ना पाई. आ सुनत बानी कि रउरा गोल के लोग अब स्टालिनो के पटावे के कोशिश कर रहल बा. ऊ स्टालिन जवना के बेटा सनातन के कोढ़ बतवलसि आ कहलसि को देश से सनातन के उन्मूलन ओकर लक्ष्य बा त अब ओकरो गोड़धरिया करे के दिन आ गइल बा राउर !

चलीं मानत बानी कि रउरा लगातार तिसरको बेर पीएम बने के रिकार्ड छू लेबे के मन बा. त ले लीं शपथ, खा लीं किरिया. बाकिर अगिलके दिने अपना पद से इस्तीफो दे दीं. छोड़ दीं एह देश के कुकुरन का भरोसे. जतना मन करे नोचऽ सँ, जतना टुकड़ा करे के बा करऽ सँ. रउरा ओकर सहभागी काहे बनब !

आ ओकरा बाद बनावे दीं इंडी के सरकार. देश इहो देख लेव कि के पीएम बनत बा आ कतना छीछालेदर करवा सकत बा आपन ! बाकिर आपन छीछालेदर मत करवाईं. उठा लीं झोरा, गोड़ पड़त बानी. अबहियें देख लीं, सरकार बने से पहिलहीं आपन आपन शर्त बतावे लागल बाड़े सँ. रउरा एह से का मतलब कि पिछला जाति, अनुसूचित जाति, आ जनजाति के आरक्षण काट के केकरा के दीहल जा रहल बा. बने दीं देश के वेनेजुएला !

आ अगर अइसन नइखीं कर सकत त रउरो आपन शर्त सकरवा लीं कि देश ओही तरह चली जवना तरह रउरा चलावत अइनी. भठियारन से कवनो समझौता ना होखी. बन्द कर दीं आपन वाशिंग मशीन.

भूलचूक, गलत बयानी ला माफी मांगत,
राउर,
भक्त.

Loading

0 Comments

Submit a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

अँजोरिया के भामाशाह

अगर चाहत बानी कि अँजोरिया जीयत रहे आ मजबूती से खड़ा रह सके त कम से कम 11 रुपिया के सहयोग कर के एकरा के वित्तीय संसाधन उपलब्ध कराईं. यूपीआई पहचान हवे - भा सहयोग भेजला का बाद आपन एगो फोटो आ परिचय
anjoria@outlook.com
पर भेज दीं. सभकर नाम शामिल रही सूची में बाकिर सबले बड़का पाँच गो भामाशाहन के एहिजा पहिला पन्ना पर जगहा दीहल जाई.
अबहीं ले 13 गो भामाशाहन से कुल मिला के सात हजार तीन सौ अठासी रुपिया (7388/-) के सहयोग मिलल बा. सहजोग राशि आ तारीख का क्रम से पाँच गो सर्वश्रेष्ठ भामाशाह -
(1)
अनुपलब्ध
18 जून 2023
गुमनाम भाई जी,
सहयोग राशि - एगारह सौ रुपिया

(3)

24 जून 2023 दयाशंकर तिवारी जी,
सहयोग राशि - एगारह सौ एक रुपिया
(4)
18 जुलाई 2023
फ्रेंड्स कम्प्यूटर, बलिया
सहयोग राशि - एगारह सौ रुपिया
(7)
19 नवम्बर 2023
पाती प्रकाशन का ओर से, आकांक्षा द्विवेदी, मुम्बई
सहयोग राशि - एगारह सौ रुपिया

(11)
24 अप्रैल 2024
सौरभ पाण्डेय जी
सहयोग राशि - एगारह सौ रुपिया

पूरा सूची
एगो निहोरा बा कि जब सहयोग करीं त ओकर सूचना जरुर दे दीं. एही चलते तीन दिन बाद एकरा के जोड़नी ह जब खाता देखला पर पता चलल ह.

संस्तुति

हेल्थ इन्श्योरेंस करे वाला संस्था बहुते बाड़ी सँ बाकिर स्टार हेल्थ एह मामिला में लाजवाब बा, ई हम अपना निजी अनुभव से बतावतानी. अधिका जानकारी ला स्टार हेल्थ से संपर्क करीं.
शेयर ट्रेडिंग करे वालन खातिर सबले जरुरी साधन चार्ट खातिर ट्रेडिंगव्यू
शेयर में डे ट्रेडिंग करे वालन खातिर सबले बढ़िया ब्रोकर आदित्य बिरला मनी
हर शेेयर ट्रेेडर वणिक हैै - WANIK.IN

Categories

चुटपुटिहा

सुतला मे, जगला में, चेत में, अचेत में। बारी, फुलवारी में, चँवर, कुरखेत में। घूमे जाला कतहीं लवटि आवे सँझिया, चोरवा के मन बसे ककड़ी के खेत में। - संगीत सुभाष के ह्वाट्सअप से


अउरी पढ़ीं
Scroll Up