कवन ससुरा कहत बा कि हम नीमन आदमी हईं

विरोध जब खाली विरोध का नाम पर होखे लागे, बिना सोचले विचरले होखे लागे त उहे होला जवन आजु खेती से जुड़ल बिल पर हो रहल बा. विपक्ष के त…

Scroll Up