लड़कियों को मैरी कॉम बनने की प्रेरणा देंगे मनोज तिवारी

manojT
मैरी कॉम एक ऐसा राष्ट्रीय-अंतराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त नाम है जिन्होंने यह साबित कर दिया कि औरत, लड़कियां लाचार बेबस या फिर घर के चौका बेलन तक सीमित नहीं रही सकती अगर वह ठान ले कुछ कर गुजरने को. ऐसा ही नाम है मैरी कॉम जिसने मुक्केबाजी जैसी विद्या में औरत जाति का गौरव बढ़ाया और देश का नाम रोशन किया. मैरी कॉम के कार्यो, जीवन शैली व् संघर्ष को सिनेमा के रुपहले परदे पर सुप्रशिद्ध अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा ने जीवंत कर दिया और यह फिल्म आज के दशक में युवतियों के लिए, महिलाओं के लिए प्रेरणादायी बन गई है.

यही प्रेरणा लेकर अब हमारी भोजपुरी इंडस्ट्री के मेगा स्टार व् सांसद मनोज तिवारी मृदुल आ रहे है. यह कार्य वह किसी योजना के तहत नहीं कर रहे बल्कि नारी सशक्तिकरण को फोकस करते हुए बालिकाओ को, महिलाओ को आत्मसुरक्षा, आत्मनिर्भर बनाने हेतु अपनी महत्वाकांक्षी फिल्म ‘औरत खिलौना नहीं’ में कर रहे हैं.

‘औरत खिलौना नहीं’ आज के सन्दर्भ में एक ऐसी फिल्म साबित होगी जो जिसने महिलाओ को उनके आतंरिक शक्ति बोध का अहसास कराने में सहायक होगी और किसी भी संकट विपदा मुसीबत को झेलने के लिए होसला प्रदान करेगी.

बताते चले कि मनोज तिवारी और असलम शेख की जोड़ी ने बॉक्स ऑफिस पे एक से एक हिट फिल्म दी है और आज एक दशक के बाद पुनः यह जोड़ी ‘औरत खिलौना नहीं’ लेकर आम दर्शको के बीच उपस्थित हो रही है. देखना यह है कि पहले की भाति दर्शको के बीच फिल्म धमाल मचा पाती है कि नहीं. आइये तब तक हम इंतजार करते हैं.

‘औरत खिलौना नहीं’ फिल्म में मनोज तिवारी के साथ रिंकू घोष, मोनलिसा, मोहिनी घोष, इम्तियाज़ असलम, अवधेश मिश्रा और कई कलाकार नजर आएँगे और यह फिल्म बहुत जल्द प्रदर्शित की जाएगी.


(संजय भूषण पटियाला)

Loading

कुछ त कहीं......

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Scroll Up