घर फूटे गँवार लूटे

भोजपुरी सिनेमा के मेगास्टार मनोज तिवारी, जिनका के हालही में भइल एगो सिने अवार्ड समारोह में एह दशक के सितारा कहि के सम्मानित कइल गइल रहे, आजुकाल्हु गलत कारण से चरचा में बाड़न. मनोज तिवारी के शिकायत बा कि कुछ अखबार आ मीडिया में उनुका तलाक से जुड़ल खबर गलत तरीका से दिहल गइल.

मनोज के कहना बा कि ऊ सभका के बतावल चाहत बाड़न कि मनोज अपना बीबी आ बेटी से बेइंतहा प्यार करे ला आ कबहू ना चहले कि अपना बीबी के तलाक देबे के पड़ो. अपना बेटी आ बीबी से अलग रहे के सोचिये के मनोज तिवारी सिहर जात बाड़न. मनोज के कहना बा कि आजु ले ऊ कवनो अइसन काम नइखे कइलन जवना से ऊ खुद का नजर में नीचे गिर जासु. बाकिर कुछ गलतफहमियन का चलते उनुकर पत्नी जिद्द ठान लिहले बाड़ी कि उनुका तलाक चाहीं आ बेमरजी मजबूरी में आ के मनोज के ओह कागज पर दस्तखत करे के पड़ल जवना में आपसी राय से तलाक लेबे के बाति लिखल बा. ई सब मनोज तिवारी अपना बीबी के तनाव खतम करे खातिर कर दिहलन बाकिर ऊ सभका से निहोरा करत बाड़न कि एह दुनिया के कवनो भलामानुष उनुका पत्नी के समुझा बुझा के मना सको त उनुका बहुते खुशी होई.

आपसी राय से तलाक वाला मामिला में कोर्ट छह महीना के समय देला जवना बीच मरद मेहरारू अपना फैसला पर फेर से विचार कर सकसु. एह से एह समय का भीतर अगर केहू ई शुभ काम करा सके त बहुते खुशी के बात होखी.


(स्रोत – शशिकान्त सिंह)

Advertisements

7 Comments

  1. भाई मनोज जी,
    अपना पत्नी से संबंध विच्छेद ना होखो, राउर ई चाह जो सचमुच हृदय से बा त बिशवास करीं, भगवान राउर जरूर सुनिहें. धीरज धरीं, भगवान सभ ठीके करिहें.
    हमार शुभकामना.
    राउर
    डॉ. रामरक्षा मिश्र विमल

  2. एहले बाउर का होई..लेकिन भगवान बाड़े…हम त इहे कहबि कि मनोज.जी.भगवान में भरोसा राखीं..ऊ..सब ठीक करिहें…

  3. It gives a great pleasure to have such magzine in BHOJPURI. Santosh Jee your hard work and great service to BHOJPURI will be remembered as a light tower in coming days THANKS to ANJORIA

  4. भाई शशिकांतजी, इहाँ अबहिन हमरा इ विस्वास नइखे होत…कहीं इ कवनो फिलिम चाहें सिरियल के कहानी त ना ह…..तनि स्पष्ट करीं।

  5. खैर, इहाँ हम बस भगवान से दुआ क सकेनी की ए घर के टूटले से बचा लें। इ भोजपुरिया संस्कृति में भी नइखे।
    हम मनोज तिवारीजी से आग्रह करबि कि उ एगो भोजपुरी फिल्मी हस्ती , गायक की रूप में ना बलुक एगो भोजपुरिया मनई के रूप में भउजी से बात करें त सायद बात बनि जाव।
    वइसे कबो-कबो मिया-बीबी में गलतफहमी भी हो जाला अउर जहाँ तक तलाक के बात बा त इ फिलमीस्तान में त एगो आम बात बा पर हम भउजी से इहे निहोरा करबि कि उहाँ का अपना के फिल्मीस्तान से जोड़ि के मत देखीं…बलुक उहाँ का इ देखीं की उहाँ का भोजपुरिया हईं।।।।
    सादर।।

  6. मनोज भाई एह में तहर हीत त काम करिहन ना, मित्र जरूर कर सकत बाड़े, वैसे इ बात अगर तू खुद ही सम्झुयित त ढेर बढ़िया रहित

  7. नेहिया के डोर जनिऽ ,
    तुडऽ गेठ -जोड़ भउजी सुनऽ-सुनऽ!
    ना त सभकर अँखिया से
    बहे लगी लोर भउजी सुनऽ-सुनऽ!!
    बड़ी दुखद बात बा .हम भगवन से दुआ करब कि अबहिंयो से मनोज तिवारी जी के विआह के बंधन के डोर टूटे से बच जाव!

Comments are closed.