File photo of previous dharna

भोजपुरी जन जागरण अभियान के बैनर तरे अंतर्राष्ट्रीय मातृभाषा दिवस के दिना 21 फरवरी 2018 के दिल्ली के संसद मार्ग पर भोजपुरी भाषा के संविधान के आठवीं अनुसूची में शामिल करावे खातिर विशाल शांति पूर्ण धरना के आयोजन कइल गइल. भलहीं भोजपुरियन के ई शांतिपूर्ण धरना रहे बाकिर ई धरनापूरा पढ़ीं…

Advertisements

लमहर समय से नीमन नीमन बाल साहित्य रचत आवत भोजपुरी हिन्दी के अनन्य  साधक भगवती प्रसाद द्विवेदी जी के आजु उत्तर प्रदेश हिंदी संस्थान का तरफ से दू लाख रुपिया नगद पुरस्कार का साथे बाल साहित्य भारती सम्मान से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का हाथ से सम्मानित कइल गइल ह. अँजोरिया केपूरा पढ़ीं…

भोजपुरी साहित्य के साधक साहित्यकार पाण्डेय कपिल जी के निधन प काल्ह वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय के स्नातकोत्तर भोजपुरी विभाग में स्मृति – सभा के आयोजन कइल गइल जवना के अध्यक्षता पूर्व भोजपुरी विभागाध्यक्ष आ भोजपुरी – हिंदी के वरिष्ठ विद्वान डॉ.गदाधर सिंह जी कइनी । पाण्डेय कपिल स्मृति –पूरा पढ़ीं…

जमशेदपुर के प्रतिनिधि साहित्यिक संस्था ‘रचनाकार’ का बैनर तले एकर संस्थापक सचिव डॉ परमेश्वर दूबे ‘शाहाबादी’ के शोध ग्रंथ “पूर्वी उत्तरप्रदेश की भोजपुरी लोककथाओं का सामाजिक अध्ययन” के लोकार्पण 8 अक्टूबर 2017 के एगो विशेष समारोह में कइल गइल। ई आयोजन टेल्को कॉलोनी स्थित संगीत समाज सभागार, जमशेदपुर (झारखंड) मेंपूरा पढ़ीं…

20 जुलाई 2017 का दिने संघ के प्रचारक स्वंयसेवक, भाजपा के नेता, आ हाल फिलहाल में बिहार के राज्यपाल रहल रामनाथ कोविन्द जी के देश के 14वाँ राष्ट्रपति का रुप में चुनइला के आधिकारिक एलान हो गइल. सोनिया गाँधी के अगुअई में बहुते विराधी गोल मिल के बाबू जगजीवन रामपूरा पढ़ीं…

“पूर्वांचल के माटी उर्वर हटे.एहिजा के लोग दिल्ली का, कतहीं अपना मेहनत से मिट्टी के सोना बना देलन.” ई बात रविवार, दिनांक 25 जून के इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में भोजपुरी समाज, दिल्ली द्वारा सम्मान समारोह का अवसर पर सांसद आ दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी कहलें. ऊ जनता कापूरा पढ़ीं…

काल्हु अतवार का दिने गोरखपुर भोजपुरी संगम’ क 87वीं बइठकी खरैया पोखरा, बसारतपुर, गोरखपुर में स्व.सत्तन जी के आवास पर सम्पन्न भइल. एहकर अध्यक्षता सूर्य देव पाठक ‘पराग’ जी आ संचालन धर्मेंद्र त्रिपाठी जी कइलीं. बइठकी में नरसिंह बहादुर चंद जी, सुधीर श्रीवास्तव जी, चंदेश्वर परवाना जी, अकिंचन जी, प्रेमपूरा पढ़ीं…

बलिया के बापू भवन सभागार में काल्हु अतवार का दिने विश्व भोजपुरी सम्मेलन के बलिया इकाई आ भोजपुरी दिशाबोध के पत्रिका पाती के आयोजन में भोजपुरी के तीन गो मूर्धन्य साहित्यकारन – बरमेश्वर सिंह, श्रीकृष्ण कुमार आ विजय मिश्र – के पाती अक्षर सम्मान से सम्मानित कइल गइल. दिन भरपूरा पढ़ीं…

– रश्मि प्रियदर्शिनी प्रेमचंद समाज के हर पहलू के जवन सूक्ष्म चित्रण कर गइल बानी, सहज सरल रूप में जवन आईना सबका सामने रख गइल बानी, ऊ अद्भुत बा. आज के समय में भी उहाँके लिखल तमाम रचना ओतने समसामयिक बा. भाई-बंधू के ताना बाना पर भी प्रेमचंद बहुत खूबपूरा पढ़ीं…

– विजय प्रकाश विन भोजपुरी भासा, साहित्य, कला, संस्कृति के उत्थान विकास करे के उद्येश्य लेके विक्रम संवत 2073 माध 16 गते, तदनुसार 16 जनवरी 2017, के दिन पुनरगठित नेपाल भोजपुरी समाज, वीरगंज के कार्यसमिति के आयोजना में होली के शुभ अवसर पर विक्रम संवत 2073 चइत 05 गते, तदनुसारपूरा पढ़ीं…

पिछला दिने नेपाल भोजपुरी समाज, वीरगंज के अध्यक्ष रामदेव प्रसाद श्रीवास्तव के अध्यक्षता मे वीरगंज में एगो बइठक भइल. एहमें फागुन 28 गते का दिने होखेवाला भोजपुरी महोत्सव कार्यक्रम के सभ्य अउरि व्यवस्थित तवर से सम्पन्न करावे क वास्ते जरुरी विषयन प छलफल भइल. कार्यक्रम के अतिथि अउरी सजनवृंद लोगपूरा पढ़ीं…